VMware Technical Full Form !!


kmsraj51 की कलम से …..
PEN KMSRAJ51-PEN

VMware Certified Professional – (VCP)

Technical Support Engineer – (TSE)

Customer Support Representative – (CSR)

Support Administrator – (SA)

Primary and Secondary License Administrators – (PLAs and SLAs)

VMware Global Support Services (VGSS) &
Technical Support Engineers (TSEs)

ift

Plugin Development Kit – (PDK)

Application Programming Interfaces – (APIs)

Technical Support Alliance Network – (TSANet)

or Cooperative Support Agreement – (CSA)

Virtual Computing Environment – (VCE)

Server Virtualization Validation Program – (SVVP)

Software Developers Kit – (SDK)

Command Line Interface – (CLI)

Java Development Kit – (JDK)

or Java Runtime Environment – (JRE)

VMware Security Response Policy – (VMSRP)

VMware Security Center – (VMSC)

Primary License Administrator – (PLA)

Virtualization support organization – (VSO)

Mission Critical Support – (MCS)

VMware Community Forum – (VMCF)

Local Language Support Policy – (LLSP)

Interactive Voice Response – (IVR)

Support Request – (SR)

Customer Support Request – (CSR)

Technical Support Request – (TSR)

Licensing Support Request – (LSR)

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

::::::::::: ~ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. :::::::::::

दुख का कारण ~ Eyesore !!

kmsraj51 की कलम से …..
PEN KMSRAJ51-PEN

एक व्यापारी को नींद न आने की बीमारी थी। उसका नौकर मालिक की बीमारी से दुखी रहता था। एक दिन व्यापारी अपने नौकर को सारी संपत्ति देकर चल बसा। सम्पत्ति का मालिक बनने के बाद नौकर रात को सोने की कोशिश कर रहा था, किन्तु अब उसे नींद नहीं आ रही थी। एक रात जब वह सोने की कोशिश कर रहा था, उसने कुछ आहट सुनी। देखा, एक चोर घर का सारा सामान समेट कर उसे बांधने की कोशिश कर रहा था, परन्तु चादर छोटी होने के कारण गठरी बंध नहीं रही थी।


ImagesBazaar_SM116635

नौकर ने अपनी ओढ़ी हुई चादर चोर को दे दी और बोला, इसमें बांध लो। उसे जगा देखकर चोर सामान छोड़कर भागने लगा। किन्तु नौकर ने उसे रोककर हाथ जोड़कर कहा, भागो मत, इस सामान को ले जाओ ताकि मैं चैन से सो सकूँ। इसी ने मेरे मालिक की नींद उड़ा रखी थी और अब मेरी। उसकी बातें सुन चोर की भी आंखें खुल गईं।


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

::::::::::::: ~ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. :::::::::::::