क्या pregnancy के दौरान Sex करना सुरक्षित है ?

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMS

क्या pregnancy के दौरान Sex करना सुरक्षित है ?

pregnancy-150x150

क्या PREGNANCY के  दौरान  Sex करना  सुरक्षित  है ?

हाँ , यदि  आपकी  pregnancy में  किसी  तरह  की  complications नहीं  हैं  और  ये एक healthy pregnancy है  तो  sex करने  में  कोई  problem नहीं  है .  Mucus plug की  मोटी  परत  जो  cervix को  सील  करती  है  वो  आपके  baby को  किसी  तरह  के  infection से  बचाती  है . इसके  आलावा  amniotic sac और  आपके  uterus के  मजबूत  muscles भी  आपके  baby को  safe रखते  हैं .

शायद  आपने  सुना  हो  कि  pregnancy के  दौरान  सेक्स  करने  से  बच्चे  का  जन्म  समय  से  पहले  हो  जाता  है . ये  सही  नहीं  है , जब  तक  की  आपकी  pregnancy एक  normal pregnancy है .

यदि  आपकी  body बच्चे  पैदा  करने  के  लिए  तैयार  नहीं  है  तो  sex करने  से  premature birth नहीं  होगी .

हालांकि , कुछ  ऐसी  conditions हैं  जहाँ  आपको  sex करने  में  सावधानी  बरतनी  चाहिए :

  •  यदि  PREGNANCY के शुरूआती दिनों  में  आपको  bleeding की  problem रही  हो  तो  शायद  आपका  doctor तब  तक  sex करने  की  सलाह  ना  दे  जब  तक  pregnant हुए  14 हफ्ते  ना  बीत  जाएं .
  • Cervical (सरवाइकल) weakness का  इतिहास  रहा  हो।
  •  Placenta (नाल) नीचे  की  तरफ  हो।
  •  Vaginal (योनि) infection रहा  हो .

Gopal-kmsraj51

Note:- Post inspired by AKC (http://www.achhikhabar.com/)

a lots of thanks to my dear friends Mr. Gopal Mishra & AKC.

 

आपका दोस्त

कृष्ण मोहन सिंह ५१

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@yahoo.inपसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

CYMT-KMSRAJ51

 

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की व्यर्थ के लिए समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

 

 

 

_____ all @rights reserve under Kmsraj51-2013-2014 ______

Understanding What Are Karmic Accounts

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-kmsraj51-New

Understanding What Are Karmic Accounts

Mera Baba

मेरा बाबा

We are not individuals acting alone in this world drama; we act in this extraordinary drama or play of life with other actors or souls who (along with us) play their different roles with different physical costumes at different times in the drama. During the process of interaction with other actors (souls) and according to the type of interaction with them, we create accounts of debit or credit that become the basis of our connections with others. The reasons for which a specific relationship goes well or not are in the so calledkarmic account that I have accumulated with the other person in the past. The past could be in this birth alone or in one or many previous births. The souls that play the parts of parents, children, husbands, wives, brothers, sisters, friends, office colleagues and others whom I know form a network for the giving and receiving of happiness and sorrow from accounts established in the past or being created in the present.

The strongest relationships that I have now were established previously. We knew each other in other lives and but in different roles. The daughter of some births ago returns now as the father, the best friend comes back as the sister etc. As long as the account exists, the interchange of actions between two souls continues. When there is nothing more to give or receive, the paths between the two souls separate by death, a break-up, a divorce or simply by the loss of contact. An e.g. of this is our school friends. Many of our friends whom we were close to in our school days, we are not in touch with today. Another e.g. is when we change jobs; we might lose complete contact with our old colleagues.

Message

To be free from waste questions is to save time.

Projection: When difficult situations come my way I usually have a lot of questions in my mind about it. I continue to ask myself why the situation has come and have no answers. These questions usually bring me no solution for the problems at hand but I continue to have waste thoughts.

Solution: I need to understand the importance of the time that is in my hands. When I recognize the value of my time I will not waste time in unnecessary thoughts but will try to find a solution for the problem. If there is no solution for the problem I at least just stop thinking unnecessarily and just accept it.

In Spiritual Service,
Brahma Kumaris

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@yahoo.inपसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

CYMT-KMSRAJ51

 

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की व्यर्थ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

 

अगर जीवन में सफल हाेना हैं, ताे कभी भी काेई भी कार्य करें ताे पुरें मन से करे।

जीवन में सफलता आपकाे देर से ही सही लेकिन सफलता आपकाे जरुर मिलेगी॥

 ~KMSRAJ51

 

CYMT-TU NA HO NIRASH K M S

 

_____ all @rights reserve under Kmsraj51-2013-2014 ______

प्यार की हकीकत-लव टिप्स

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

प्यार ऐसा ही होता है जब हमारे पास होता है तो हमें उसकी कद्र नहीं होती और जब यह दूर चला जाता है तो आंखों से पानी रुकने का नाम नहीं लेते. सही प्यार को सही समय पर पहचान पाना बेहद मुश्किल होता है. जब हमारा प्यार हमारी आंखो के आगे होता है तो हम उसे नजरअंदाज कर देते हैं या फिर उससे भी अच्छे की तलाश में आगे बड़ जाते हैं. पर जब आगे जाकर हमें उसकी तरह कोई नहीं मिलता तो फिर हम वापस वहीं आते हैं लेकिन तब तक उसको कोई और चुन लेता है.

आज कल हर रिश्ता बड़ा अस्थाई हो गया है. यहां कोई किसी का इंतजार नहीं करता. मान लीजिए अभी अभी आपने कॉलेज में एडमीशन लिया और आपके दिल को लड़की पसंद आ गई पर आपने सोचा कि चलो पहले एक महीने किसी दूसरी लड़की को देख लेते हैं जो इससे भी अच्छी हो. और इस तरह जब आप एक महीने बाद इस तर्क पर पहुंचते हैं कि वही लड़की आपके लिए परफेक्ट थी तो तब तक वह लड़की किसी और के साथ प्रेम गीत गाती मिलेगी.

 

प्रिय मित्रों,

मैं तुम्हें एक कहानी सुनाता हूँ॥

love-life-kmsraj51

एक लड़की ने एक बुजुर्ग से पूछा: प्यार की हकीकत क्या है?

 बुजुर्ग ने कहा:  जाओ बाग में सब से खुबसूरत फूल लेकर आओ.

लड़की एक दिन बाद वापस आई और बोली: मैं फूल देखती रही, एक फूल सबसे खुबसूरत था मगर मैं उस से बेहतर की तलाश में चल पड़ी मगर कोई प्यारा नहीं लगा. जब लौट कर आई तो कोई उस फूल को तोड़ कर ले गया था.

बुजुर्ग: यही प्यार की हकीकत है. जो सामने हो उसकी कद्र नहीं की जाती और जप वापिस लौटा जाता है वो किसी और का हो जाता है.

खैर यह तो सिर्फ एक कहानी थी जिसका सार सिर्फ इतना है दोस्तों की प्यार बड़ा अनमोल है. इसकी कद्र करो. प्यार की कहानी दिल की दिवार पर पत्थर की तरह होनी चाहिए जिसपर किसी दूसरे का नाम लिखने पर आपके दिल को बैतहा दर्द हो.

हालांकि आज के समय में ऐसा कर पाना बहुत मुश्किल है लेकिन कभी प्यार को प्यार से बढकर ट्रीट करके देखो, अच्छा लगेगा. एक प्रेमी को अगर आप अपना सबसे अच्छा दोस्त बनाएंगे तो आपकी जिंदगी सच में प्यार के रंग में डुब जाएगी.

Post share by:: Hitesh Narendra Singh

hitesh-KMSRAJ51

 I am grateful to Mr. Hitesh Narendra Singh, for sharing real love tips article in Hindi.

 Contact ID: hiteshsingh001@gmail.com

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life   Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

कुछ भी आप के लिए संभव है ॥

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@2014-all rights reserve under kmsraj51.

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

एक लड़की क्या चाहती है!!

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

professional-girl

अकसर हर आशिक के मन में एक ही सवाल उठता है कि वह जिस लड़की को चाहता है वह क्या चाहती है? यह सवाल दुनिया के हर आशिक को परेशानी में डाले रखता है. लेकिन अकसर हम यह भूल जाते हैं कि लड़कियां बेहद सॉफ्ट दिल की होती हैं जो आपसे बस थोड़-सा प्यार और थोड़ी केयर चाहती हैं बस.

एक लड़की क्या चाहती है यह जानने के लिए आपको यह जानना जरूरी है कि आखिर अपने मां-बाप की प्यारी-डालडी परी आखिर इस प्रेम रोग के चक्कर में पड़ती क्यूं है? दरअसल माना यह जाता है कि लड़कियां प्रेम रोग में ज्यादातर आकर्षण या फिर अपने मां-पिता के घेरे से बाहर निकलने के लिए करती हैं. लड़कियों का मन एक नदी की भांति बहना चाहता है वह माता-पिता के बंधनों को मानने के लिए विवश नही होना चाहता है, इसीलिए कई बार बाहरी आकर्षण से तो कभी आजकल की फिल्मों को देख कर अपने घर की परी भी उस भंवरे के पीछे पागल हो जाती है जिसकी वेल्यू उस लड़की से बेहद कम हो.

अब मुख्य बात: आखिर एक लड़की क्या चाहती है?

दोस्त चाहिए प्यार नहीं: हर लड़की चाहती है कि उसका प्रेमी उसका ध्यान रखे. अगर आप ऊपर-ऊपर से समझे तो पाएंगे कि एक लड़की दरअसल उसे ही अपना सच्चा प्रेमा मानती हैं जिसे वह दोस्त बना सके. इसलिए किसी लड़की का प्यार बनने से पहले उसके लिए एक अच्छा दोस्त बनने की कोशिश करें. लडकियां बेहद भावुक होती हैं और कई बातें वह अपनी सहेलियों को नहीं कह पाती. ऐसी बातें कहने के लिए वह ऐसे शख्स की तलाश में होती हैं जो उनका विश्वसनीय हो सके. तो अगली बार जिस लडकी को आप चाहते हैं उसके सामने एक प्रेमी की तरह नहीं एक दोस्त की तरह पेश आएं.

 

उसकी परेशानी सिर्फ सुने नहीं समझे: एक लड़की चाहती है कि उसका दोस्त उसकी परेशानी को मात्र सुनें ही नही बल्कि उसे समझने की कोशिश भी करे.

 उसकी हां में हां मिलाए: एक लड़की को एक ऐसा साथी चाहिए होता है जिसपर वह विश्वास तो कर ही सके साथ ही वह दोस्त उसकी हर बात माने.

 और लड़कियां यह भी चाहती हैं:

  • लड़कियां चाहती हैं कि लड़के उनके नखरे उठाएं, उनके आगे-पीछे घूमें, उन्हें भाव दें, उनकी हर बात मानें.
  • प्यार, तारीफ और गिफ्ट्स.

Article-Source: 

JagranJunction Blogs

 

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

कुछ भी आप के लिए संभव है ॥

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@2014-all rights reserve under kmsraj51

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

 

 

Transforming The Other’s Anger

kmsraj51 की कलम से…..


Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

—————————————–
Soul Sustenance 03-05-2014
—————————————–

Transforming The Other’s Anger 

In meditation, when I connect with God, I absorb His spiritual love and peace, which causes my own original qualities, which are present in me, the soul, in my pure state when I begin the playing of roles through physical bodies on the world stage, to come to the forefront or to the surface, to emerge in the conscious from the sub-conscious. As a result, now, where previously there would have been conflict, I have a greater capacity to remain peaceful when another person behaves in an unpleasant way with me. I have the power to stay mentally and emotionally stable when someone provokes or insults me. This power is enormously valuable in life, enabling me to cool heated situations, and even remove another person’s anger altogether. 

Instead of focusing on the anger on a person’s face, I focus my attention to the non-physical, star-like being or soul within the person, which was peaceful and loveful in its original, pure state. This increases my tolerance and acceptance power. Also, through my meditation, I am actively aware of the spiritual bond all human beings share, as souls who have a common home of peace, the incorporeal (non-physical) home, from where all of souls come and a common connection with the One Supreme Father, the Supreme Soul. Through this knowledge, I connect with the goodness in the other soul and my love for the soul is maintained. I realize that this goodness is a deeper reality than the anger. The truth is that if I can hold this soul-conscious vision steady for long enough, I radiate positive energy to the other soul, which works like magic and awakens the goodness within the other person. Then, my tolerance bears fruit and peace really does prevail between the two of us. 

———————————————
Message for the day 03-05-2014
———————————————

To bring in light is to finish darkness. 

Expression: Usually when there is any negativity seen, there is a lot of attention paid to it. All the positivity remains hidden and only the negativity is highlighted. So the one who is caught up with a negative attitude colours all his words and actions too with this negativity and will naturally create a world of negativity for himself. 

Experience: When I am able to see the positivity even in both positive situations and negative situations, I am able to influence others with my positivity. Others’ negativity will not influence me in a negative way, but I will be able to remain powerful in all situations. I will experience inner growth constantly. 


In Spiritual Service,
Brahma Kumaris

brahmakumaris-kmsraj51

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

 

kmsraj51 की कलम से…..

Coming Soon book,,

जल्द ही आ रहा, पुस्तक,

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@all rights reserve under kmsraj51.

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

प्रेम एक पंछी है !!

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

प्रेम एक पंछी है !!

“प्रेम एक पंछी हैउसे आज़ाद रखो ! उस पर एकाधिकार करने की कोशिश मत करो ! 

एकाधिकार करोगे तो वह मरजाएगा ! 

एक सम्पूर्ण व्यक्ति वह है जो बिना शर्त प्रेम कर सकता है !

 जब प्रेम बिना किसी बंधन केबिना किसी शर्त के 

प्रवाहित होता है तो और कुछ उपलब्द्ध करने 

के लिए रह ही नहीं जाताव्यक्ति को उसकी मंजिल मिल जाती है !”

t1larg.romantic.love.drug

 

 

 

 

जब हम किसी से कहते हैं : आई लव यू, तो दरअसल हम किसी बारें में बात कर रहे होते हैं ? 

इन शब्दों के साथहमारी कौनसी मांगें और उमीदें, कौन कौन सी अपेक्षाएं और सपने जुड़े हुए हैं ! 

तुम्हारे जीवन में सच्चे प्रेम कीरचना कैसे हो सकती है ?

 

तुम जिसे प्रेम कहते हो, वह दरअसल प्रेम नही है ! जिसे तुम प्रेम कहते हो, वह और कुछ भी हो सकता है, 

पर वह प्रेमतो नहीं ही है ! हो सकता है कि वह सेक्स हो ! हो सकता है कि वह लालच हो ! 

हो सकता है कि अकेलापन हो !

वहनिर्भरता भी हो सकता है ! खुद को दूसरों का मालिक समझने की प्रवृति भी हो सकती है ! 

वह और कुछ भी हो सकता है,पर वह प्रेम नहीं है ! 

प्रेम दूसरों का स्वामी बनने की प्रवृति नही रखता ! प्रेम का किसी अन्य से लेना देना होता ही नहीं है! 

वह तो तुम्हारे प्रेम की एक स्थिति है ! प्रेम कोई सम्बन्ध नहीं है ! 

हो सकता है कि कोई सम्बन्ध बन जाए, पर प्रेमअपने आप में कोई सम्बन्ध नहीं होता ! 

सम्बन्ध हो सकता है, पर प्रेम उसमें सीमित नहीं होता ! वह तो उससे कहींअधिक है !

 

प्रेम अस्तित्व की एक स्थिति है ! जब वह सम्बन्ध होता है तो प्रेम नहीं हो सकता, 

क्योंकि सम्बन्ध तो दो से मिलकरबनता है !

 और जब दो अहम होंगे, तो लगातार टकराव होना लाजमी होगा ! 

इसलिए जिसे तुम प्रेम कहते हो, वह तोसतत संघर्ष का नाम है !

 

प्रेम शायद ही कभी प्रवाहित होता हो ! 

तकरीबन हर समय अहंकार के घोड़े की सवारी ही चलती रहती है ! 

तुम दूसरे कोअपने हिसाब से चलने की कोशिश करते हो और दूसरा तुम्हें अपने हिसाब से ! 

तुम दूसरे पर कब्ज़ा करना चाहते होऔर दूसरा तुम अधिकार करना चाहता है ! 

यह तो राजनीती है, प्रेम नहीं ! 

यह ताकत का एक खेल है ! यही कारण है कीप्रेम से इतना दु:ख उपजता है ! 

अगर वह प्रेम होता तो दुनिया स्वर्ग बन चुकी होती, जो कि वह नहीं है ! 

जो व्यक्ति प्रेमको जनता है, वह आनंदमग्न रहता है, बिना किसी शर्त के ! 

उसके बजूद के साथ जो होता रहे, उससे उसे कोई अंतर नहींपड़ता ! 

मैं चाहता हूँ कि तुम्हारा प्रेम फैले, बढे ताकि प्रेम की ऊर्जा तुम पर छा जाये ! 

जब ऐसा होगा तो प्रेम निर्देशित नहीं होगा! तब वह साँस लेने की तरह होगा! 

तुम जहाँ भी जाओगे, तुम साँस लोगे ! तुम जहाँ भी जाओगे, प्रेम करोगे ! 

प्रेमकरना तुम्हारे जीवन की एक सहज स्थिति बन जायेगा !

 किसी व्यक्ति से प्रेम करना तो केवल एक सम्बन्ध बनाना भरहै ! 

यह तो ऐसा हुआ की जब तुम किसी खास व्यक्ति के साथ होते हो तो साँस लेते हो 

और जब उसे छोड़ते हो तो साँसलेना बंद कर देते हो ! 

सवाल यह है की जिस व्यक्ति के लिए तुम जीवित हो, उसके बिना साँस कैसे ले सकते हो ! 

प्रेम के साथ भी यही हुआ है ! हर कोई आग्रह कर रहा है, मुझे प्रेम करो, 

पर साथ ही शक भी कर रहा है कि शायद तुमदूसरे लोगों को भी प्रेम कर रहे होंगे ! 

इसी ईर्ष्या और संदेह ने प्रेम को मार डाला है ! पत्नी चाहती है कि पति केवल उससेप्रेम करे ! 

उसका आग्रह होता है कि केवल मुझसे प्रेम करो ! जब तुम दुनिया में बाहर जाओगे, 

दुसरे लोगों से मिलोगे तोक्या करोगे ? 

तुम्हें लगातार चौकन्ना रहना होगा कि कि कहीं किसी के प्रति प्रेम न जता दो ! 

 प्रेम करना तुम्हारेअस्तित्व कि एक स्थिति है ! प्रेम साँस लेने के सामान है ! 

सांसें जो तुम्हारे शरीर के लिए करती है, 

प्रेम वही तुम्हारीआत्मा के लिए करता है !

 प्रेम के माध्यम से तुम्हारी आत्मा साँस लेती है इसलिए ईर्ष्यालु मत बनो !

यही बजह है कि सारी दुनिया में हर कोई कहता है कि आई लव यू, 

पर कहीं पर कोई प्रेम नहीं दिखाई पड़ता ! 

उसकीआँखों में न कोई चमक होती है न चेहरे पर वैवभ ! 

न ही तुम्हें उसके ह्रदय की धडकनें तेज होते हुए सुनाई देंगी !

 किसीभी कीमत पर अपने प्रेम को न मरने दो, 

वरना तुम अपनी आत्मा को मार डालोगे और न ही

 किसी दूसरे को यहनुकसान पहुँचने दो ! 

प्रेम आज़ादी देता है ! और प्रेम जितनी आज़ादी देता है, 

उतना ही प्रेममय होता जाता है !

 

प्रेम एक पंछी है, उसे आज़ाद रखो ! 

उस पर एकाधिकार करने की कोशिश मत करो ! 

एकाधिकार करोगे तो वह मरजाएगा ! 

एक सम्पूर्ण व्यक्ति वह है जो बिना शर्त प्रेम कर सकता है ! 

जब प्रेम बिना किसी बंधन के, बिना किसी शर्त केप्रवाहित होता है तो 

और कुछ उपलब्द्ध करने के लिए रह ही नहीं जाता, व्यक्ति को उसकी मंजिल मिल जाती है !

अगर प्रेम प्रवाहित नहीं हो रहा है तो तुम महान संत क्यों न जाओ, रहोगे दुखी ही !

 अगर प्रेम प्रवाहित नहीं हो रहा है तोभले ही तुम महान विद्वान, 

धर्मशास्त्री या दार्शनिक ही क्यों न बन जाओ, तुम न बदल पाओगे ! न ही रूपांतरित होपाओगे ! 

केवल प्रेम ही रूपांतरण कर सकता है, 

क्योंकि केवल प्रेम के माध्यम से ही अंहकार समाप्त होता है !
ध्यान का अर्थ है, प्रेम के संसार में प्रवेश ! सबसे बड़ा साहस है, 

बिना शर्तों के प्रेम करना, केवल प्रेम के लिए प्रेम करना,इसी को तो ध्यान कहते हैं ! 

और प्रेम तुम्हें फ़ौरन बदलना शुरू कर देगा ! 

वह अपने साथ एक नया मौसम लायेगा और तुम खिलना शुरू हो जाओगे !

 

लेकिन एक बात याद रखो, व्यक्ति को प्रेममय होना होगा !

 तुम्हें इसके लिए चिंतित होने की जरुरत नहीं है कि दूसराबदले में प्रेम करता है कि नहीं ! 

प्रेम कि माँग कभी मत करो, प्रेम अपने आप आएगा !

 वह जब आता है तो सौ गुना मात्रमें आता है ! 

तुम प्रेम दोगे तो वह जरुर आएगा ! हम जो भी देते हैं वो वापस मिलता है ! 

याद रहे जो भी तुम्हें मिल रहाहै, वह तुम्हें किसी न किसी रूप में मिल जरुर रहा है ! 

लोग सोचते हैं कि कोई उन्हें प्रेम नहीं करता इससे साफ हो जाताहै कि उन्होंने प्रेम किया ही नहीं !

 वे हर समय दूसरों को कसूरवार समझते हैं, पर उन्होंने जो फसल बोई ही नही, 

वोभला उसे काट कैसे सकते हैं !

 

इसलिए अगर प्रेम तुम्हारे पास आया है तो समझ लो कि तुम्हें प्रेम देना आ गया है ! 

तो फिर और प्रेम दो तुम्हें भी औरमिलेगा ! इससे कभी कँजूसी ना बरतो ! 

प्रेम कोई ऐसी चीज नहीं है कि देने से ख़त्म हो जाये ! 

असलियत तो यह है किवह देने से और बढ़ता है ! 

और जितना अधिक देते हैं, उतना ही ज्यादा बढ़ता है ! !

 

Post Share By:: Rishikesh Meena

I am grateful to Mr. Rishikesh Meena ,, (a younger author heart).

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

@all rights reserve under kmsraj51.

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

 

Definitions of Success !!

kmsraj51की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

“सफलता की परिभाषा”

 

Brahma Kumaris – Soul Sustenance and Message for the day

 

—————————————–
Soul Sustenance 25-04-2014
—————————————–

Defining Success 

Given below are some definitions of success: 

• Feeling yourself to be full of inner contentment and happiness, with an optimistic mental state, without fear, happy and in a good mood. Being fine, in balance and at peace with oneself. 
• Finding meaning in what you do. 
• Discovering what will bring you closer to your dream. 
• Success is about more than just possessing; it is facing all situations, even the negative ones, transforming them into the positive and feeling yourself realized, personally and emotionally. 
• Having courage to take forward what you want, in spite of what you find against it. 
• Achieving in each moment the desired objectives at all levels of the inner being. Fulfilling set objectives and adopting a positive attitude. 
• Being able to be beyond noise i.e. experience silence wherever and whenever you wish to – silence being the key to all spiritual treasures. 
• Remaining humble in the wake of all achievements and glory that may come your way. 
• Not being afraid of failure. 
• Satisfaction at work. 
• In harmony with one’s inner conscience (while performing all actions). 

Tomorrow we shall discuss some factors that bring us closer to success. 

———————————————
Message for the day 25-04-2014
———————————————

To be a giver is to be flexible. 

Expression: The one who does not expect from others, but is able to give others from whatever resources he has, is the one who is flexible. Being flexible means to be able to recognize the other person’s value system and moulding one self according to it without losing touch with one’s own value system. 

Experience: When I am a giver, I do not expect others to change according to my value system, but am very easily able to find a way to adapt to the other person’s value system. I never expect from others to understand me, but am able to understand others. So there is never any feeling of negativity for anyone. 


In Spiritual Service,
Brahma Kumaris

brahmakumaris-kmsraj51

 

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, Inspirational Story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

 

Success Life_kmsraj51

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए – (100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————