१० फेस पैक विंटर सीजन के लिए।

Kmsraj51 की कलम से…..

KMSRAJ51-CYMT

१० फेस पैक विंटर सीजन के लिए।

सर्दियों के मौसम में स्किन को रूखी होने से बचाने के लिए इन विंटर स्पेशल फेस पैक को जरूर आजमाएं-

KMSRAJ51-face-pack

१० फेस पैक विंटर सीजन के लिए।

१-  स्ट्रॉबेरी फेस पैक स्ट्रॉबेरी का पेस्ट बनाएं और इसे चेहरे पर लगाएं। कुछ देर बाद चेहरा धो लें।

२- हनी फेस पैक दो टेबलस्पून शहद मेंएक टीस्पून रोज वॉटर मिलाएं और चेहरे पर लगाएं।

३- एलोविरा जेल फेस पैक एलोविरा जेल लें और इसे 10-15 मिनट तक लगे रहने दें। बाद में चेहरा धो लें।

४- अल्मंड ऑयल फेस पैक बादाम के तेल में दूध की मलाई मिलाएं और चेहरे पर लगाएं। 10 मिनट बाद चेहरा धो लें।

५- लेमन जूस फेस पैक एक-एक टीस्पून लेमन जूस व शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं। 10-15 मिनट तक लगे रहने दें। बाद में चेहरा धो लें।

६- ग्रेप्स फेस पैक अंगूर का छीलकर मसल लें और फिर चेहरे पर लगाएं। आधे घण्टे बाद गुनगुने पानीसे चेहरा धो लें।

७- पपाया फेस पैक पपाया के गूदे को उंगलियों से मसलकर पूरे चेहरे पर लगाएं। दस मिनट बाद चेहरा धो लें।

८- मिल्क क्रीम फेस पैक दूध की मलाई पूरे चेहरे पर अच्छी तरह लगाएं। जब ये सूख जाए। तो चेहरा धो लें।

९- कोकोनट मिल्क फेस पैक नारियल को मिक्सर में पीसकर उसका दूध निचोड लें। पंद्रह मिनट तकचेहरे पर लगा रहने दें।

१०- कैरट-हनी फेस गाजर के जूस में शहद मिलाएं और चेहरे पर लगाएं। बीस मिनट बाद चेहरा धो लें।

Article Source: आभार व्यक्त – http://articles.khaskhabar.com/

Please Share your comment`s.

आपका सबका प्रिय दोस्त,

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

———– @ Best of Luck @ ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

http://wp.me/p3gkW6-1dk

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

http://wp.me/p3gkW6-mn

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

http://wp.me/p3gkW6-1dD

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

http://wp.me/p3gkW6-Ig

* चांदी की छड़ी।

http://wp.me/p3gkW6-1ep

love-rose-kmsraj51

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

-KMSRAJ51

किसी भी कार्य में सफलता प्राप्त करने के लिए हिम्मत और उमंग-उत्साह बहुत जरूरी है।

जहाँ उमंग-उत्साह नहीं होता वहाँ थकावट होती है और थका हुआ कभी सफल नहीं होता।

 ~KMSRAJ51

 

_______Copyright © 2015 kmsraj51.com All Rights Reserved.________

Advertisements

पिपरमिंट (Peppermint)

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMS

पिपरमिंट (Peppermint) –

पिपरमिंट (Peppermint) -

पिपरमिंट (Peppermint)

यह विश्व में यूरोप,एशिया,उत्तरी अमेरिका तथा ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है। समस्त भारत में यह बाग़-बगीचों में विशेषतः उत्तर भारत तथा कश्मीर में लगाया जाता है। यह अत्यंत सुगन्धित क्षुप होता है। इसके तेल,सत तथा स्वरस आदि का चिकित्सा में उपयोग किया जाता है। इसके पुष्प बैंगनी,श्वेत अथवा गुलाबी वर्ण के तथा पुष्पदण्ड के अग्र भाग पर लगे होते हैं। इसके फल चिकने अथवा खुरदुरे तथा बीज छोटे होते हैं। इसका पुष्पकाल एवं फलकाल सितम्बर से अप्रैल तक होता है।

पिपरमिंट का औषधीय प्रयोग –

१- पिपरमिंट के क्रिस्टल को दांतों के बीच में रखकर दबाने से दांत दर्द में लाभ होता है ।

२- पिपरमिंट को छाती पर लगाने से श्वसन संस्थान गत सूजन में लाभ होता है ।

३- पिपरमिंट क्रिस्टल का सेवन करने से उलटी,अतिसार,आध्मान तथा अजीर्ण में लाभ होता है ।

४- २५ ग्राम पिपरमिंट सत में शक्कर मिलाकर सेवन करने से पेटदर्द तथा पेट के विकार ठीक होते हैं ।

५- पिपरमिंट के पत्तों को पीसकर लगाने से चींटी आदि कीटों के काटने से होने वाली वेदना का शमन होता है ।

Post inspired by:

Poojya Acharya Bal Krishan Ji Maharaj-KMSRAJ51

पूज्य आचार्य बाल कृष्ण जी महाराज

मैं श्री आचार्य बाल कृष्ण जी महाराज का बहुत आभारी हूँ!!

आपको दिल से शुक्रिया;

Ayurveda Product Available on;-

http://patanjaliayurved.org/

पढ़ेंविमल गांधी जी कि शिक्षाप्रद कविताओं का विशाल संग्रह।

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– @ Best of Luck @ ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

-KMSRAJ51

KMSRAJ51-CYMT-A

____Copyright © 2013 – 2015 Kmsraj51.com All Rights Reserved.____

How to get pregnant in Hindi ?

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

क्या आप जानते हैं भारत में Google पर सबसे ज्यादा search  की जाने वाली  How to query  क्या है?

यह जानने के लिए  मैंने थोड़ी research  की तो पता चला कि ” How to get pregnant ? ” or ” How can I get pregnant ?  भारत में खोजे जाने वाली नम्बर वन ” How to”   query  है.  इसका यह मतलब है कि भले भारत दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश हो पर लाखों लोग इस बात कि जानकारी ठीक से नहीं रखते कि आखिर बच्चा  पैदा करने में क्या-क्या सावधानियां रखीं जायें . इसकी एक बड़ी वजह यह भी है कि हमारे समाज में sex  और उससे संबधित बातों के बारे में बोलना-सुनना बुरा माना जाता है. और सही जानकारी ना मिल पाने के कारण लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है.

pregnanacy-KMSRAJ51How to get pregnant in Hindi?

 

दुर्भाग्यवश इन्टरनेट पर भी इस विषय पर खोजने पर प्रेगनेंसी पर कुछ अच्छा लेख मिलने की बजाये Hindi sex stories मिलती हैं इसलिए आज मैं  AchhiKhabar.Com  पर ” How to get pregnant ” Hindiमें  share कर रहा हूँ ,ताकि खोजने वालों को एक अच्छी जानकारी  मिल सके.

Friends, यहाँ दी गयी जानकारी मैंने विभिन्न websites से collect  की है जहाँ expert doctors  ने गर्भावास्ता से  related  बातें बतायीं हैं. मेरा मानना है कि यह जानकारी आपके लिए काफी उपयुक्त  है  पर फिर भी आप किसी भी बात पर अमल करने से पहले यदि अपने  doctor  से   concern  कर लें तो बेहतर होगा .

 

HOW TO GET PREGNANT IN HINDI  ?

गर्भवती कैसे बनें ? 

पहले आपको Pregnancy  से  related  कुछ  facts  बता देता हूँ:

  • जितने भी लोग बच्चा पैदा करना चाहते हैं , उनमे से लगभग  85%  लोग एक साल के अन्दर ऐसा करने में सफल हो जाते हैं. जिसमे से 22 % लोग तो पहले महीने के अन्दर ही सफल हो जाते हैं. यदि एक साल तक प्रयास करने पर भी बच्चा ना हो तो यह समस्य का विषय हो सकता है , और ऐसे  couples  को  infertile  समझा जाता हैं.
  • बच्चा पैदा होने के लिए couples  के बीच सेक्स(सम्भोग /intercourse)  का होना अनिवार्य है. और इसके दौरान पुरुष का penis  (लिंग)  इस्त्री के  vagina (योनी)  में जाना चाहिए और  उसे  इस्त्री के vagina  में sperm ( शुक्राणु ) छोड़ने होंगे , जिससे sperm ,uterus(गर्भाशय) के मुख के पास इकठ्ठा हो जायेगा. यह प्रक्रिया सेक्स के दौरान स्वत: ही हो जाती  है , इसलिए इसकी चिंता करने की कोई ज़रुरत नहीं है.
  • इसके आलावा सम्भोग  ovaluation  के समय के आस-पास होना चाहिए. Ovaluation एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे महिलाओं के Ovary (अंडाशय ) से egg ( अंडे) निकलते हैं.Ovulation menstruation cycle(MC) यानि मासिक धर्म चक्र का पार्ट होता है, जो कि MC  के चौदहवें दिन, जब bleeding start  हो जाती है तब शुरू होता है.

pregnancy-300x270-KMSRAJ51

बच्चा पैदा करने के लिए महिलाओं में सेक्स के दौरान orgasm  होना अनिवार्य नहीं है. Doctors  का कहना है कि दरअसल fallopian tube  जो कि अंडे को ovary से  uterus तक ले जाता है , sperm  को अपने अन्दर खींच ले जाता है और उसे egg  से मिलाने की कोशिश करता है. और इसके लिए महिलाओं में orgasm  का आना जरूरी नहीं है.

 

9 Tips to get pregnant in Hindi :

1) Doctor  से जांच कराएं :

बच्चे कि  planning  करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले लेना और अपनी जांच करा लेना चाहिए . इससे यह पता चल जायगा कि आपको किसी तरह कि शारीरिक परेशानी तो नहीं है , या कोई infection वगैरह. इससे sexually transmitted disease होने की सम्भावना ख़तम हो जाएगी. साथ ही अगर डिम्बग्रंथि अल्सर, फाइब्रॉएड, endometriosis, गर्भाशय के अस्तर की सूजन जैसे परेशानियों की भी जांच हो जाएगी.

2) Ovulation के समय के आस-पास  sex  करें

Gynecologists  का मानना है कि बच्चा पैदा करने के लिए  इस्त्री के eggs  ovary  से निकलने के  24  घंटे के अन्दर ही fertilize  होने चाहियें.  आदमी के  sperms  औरत के reproductive tract  (प्रजनन पथ)  में 48 से  72  घंटे तक ही जीवित रह सकते हैं. चूँकि बच्चा पैदा करने के लिए आवश्यक embryo (भ्रूण ) egg  और  sperm  के मिलन से ही बनता है , इसलिए couples  को ovulation  के दौरान कम से कम 72  घंटे में एक  बार ज़रूर sex  करना चाहिए और इस दौरान पुरुष को इस्त्री के ऊपर होना चाहिए ताकि sperms के leakage की सम्भावना कम हो. साथ ही पुरुषों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो  48  घंटे में   एक बार से ज्यादा ना ejaculate  करें  वरना उनका sperm count  काफी नीचे जा सकता है , जो हो सकता है कि egg  जो fertilize  करने में पर्याप्त ना हो.

 Ovulation का  समय कैसे पता  करें ?

Ovulation  का समय पता करने का अर्थ है उस समय का पता करना जब ovaries  से fertilization  के लिए तैयार  egg  निकले. इसे जानने के लिए आपको अपने period-cycle (मासिक-धर्म) का अंदाजा होना चाहिए. यह 24  से  40 दिन के बीच हो सकता है.  अब यदि आप को अपने next period  के आने का अंदाजा है तो आप उससे 12 से 16  दिन पहले का समय पता कर लीजिये , यही आपका  ovulation का समय होगा .

For Example:   यदि period  की शुरुआत 30  तारीख को होनी है तो  14  से 18  तारिख का समय ovulation  का समय होगा.

बच्चा पैदा करने के लिए उपयुक्त समय का पता करने का एक और तरीका है :

Vagina से निकलने वाले चिपचिपे तरल को अपने ऊँगली पर लीजिये और उसकी elasticity check  कीजिये, जब ये अधिक और देर तक लचीला रहे तो समझ जाइये कि ovulation हुआ है और अब आप बच्चा पैदा करने के लिए सम्भोग कर सकते हैं.

3) एक  healthy lifestyle बनाए रखें.

बच्चा पैदा करने के chances  बढ़ाने के लिए बेहद आवश्यक है कि  पति-पत्नी  एक स्वस्थ्य- जीवनशैली बनाये रखें. इससे   होने वाली संतान भी अच्छी होगी. खाने – पीने में पर्याप्त भोजन और फल की मात्रा रखें . Vitamins  कि सही मात्र से पुरुष-स्त्री दोनों की  fertility rate  बढती है .रोजाना व्यायाम करने से भी फायदा होता है.

सिगरेट पीने वाली महिलाओं में conceive  करने के chances   40 % तक घट जाते हैं

4) Stress-free (तनाव-मुक्त) रहने का प्रयास करें:

इसमें कोई शक नहीं है कि अत्यधिक तनाव आपके reproductive function  में बाधा डालेगा. तनाव से कामेक्षा ख़तम हो सकती है , और extreme conditions  में स्त्रियों में  menstruation  कि प्रक्रिया को रोक सकती है. एक शांत मन आपके शरीर पर अच्छा प्रभाव डालता है और आपके pregnant  होने की सम्भावना को बढ़ता है. इसके लिए आप regularly  breathing- exercises और  relaxation techniques  का प्रयोग कर सकती हैं.

5) Testicles  (अंडकोष)को ज्यादा heat  से बचाएँ :

यदि sperms  ज्यादा तापमान में expose  हो जायें तो वो मृत हो सकते हैं. इसीलिए testicles (जहाँ sperms  का निर्माण होता है)  body  के बहार होते हैं ताकि वो ठंढे रह सकें.  गाड़ी चलते समय ऐसे beaded सीट का प्रयोग करें जिसमे से थोड़ी हवा पास हो सके. और बहुत ज्यादा गरम पानी से इस अंग को ना धोएं .वैसे आम तौर पर इतना अधिक  precaution  लेने की ज़रुरत नहीं है पर जो लोग आग की भट्टी या किसी गरम स्थान पर देर तक काम करते हैं उन्हें सावधान रहने की ज़रुरत है. X-Ray technicians को हमेशा lead coat पहन कर काम करना चाहिए अन्यथा बच्चे में जन्मजात विसंगतियां हो सकती हैं.

6) सेक्स के बाद थोड़ी देर आराम करें:

सेक्स के बाद थोड़ी देर लेटे रहने से महिलाओं कि योनी से sperms  के निकलने के chances नहीं  रहते. इसलिए  सेक्स के बाद 15-20 मिनट लेटे रहना ठीक रहता है.

7)  किसी तरह का नशा ना करे:

ड्रग्स , नशीली दवाओं, सिगरेट या शराब के सेवन आदमी-औरत , दोनों के  hormones  का संतुलन बिगड़ सकता है. और आपकी प्रजनन क्षमता को बुरी तरह  प्रभावित कर सकता है.और बच्चों में भी  जन्मजात विसंगतियां हो सकती हैं.

8)  दवाओं का प्रयोग कम से कम करें :

कई दवाइयां , यहाँ तक कि आराम से मिल जाने वाली आम दवाइयां भी आपकी fertility  पर बुरा प्रभाव डाल सकती हैं.कई चीजें ovulation  को रोक सकती हैं , इसलिए दवाओं का उपयोग कम से कम करें. बेहतर होगा कि आप किसी भी दावा को लेने या छोड़ने से पहले डॉक्टर से सलाह ले लें.खुद अपना इलाज करना घातक हो सकता है, ऐसा risk  ना लें.

9) Lubricants को avoid करें: 

Vagina  को  lubricate  में प्रयोग होने वाले कुछ ज़ेल्स, तरल पदार्थ , इत्यादि sperms  को महिलाओं की reproductive tract  में travel  करने में बाधक हो सकते हैं. इसलिए इनका प्रयोग अपने डाक्टर से पूछ कर ही करें.वैसे किसी artificial lubricant  का प्रयोग करने की आवश्यकता ही नहीं है, क्योंकि orgasm के दौरान शरीर खुद ही पर्याप्त मात्रा में liquid produce करता है जो sperm और  ova  दोनों के लिए healthy होता है.

उम्मीद है आपको इस जानकारी से लाभ मिलेगा.Thanks.

Post inspired by: http://www.achhikhabar.com/

मैं श्री गोपाल मिश्रा और एकेसी का आभारी हूं.

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Please DO NOT ASK for any suggestions from me, as I am not a Doctor

and

Kindly don’t put any obscene  comment as the same will not be approved.

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

“सफल लोग अपने मस्तिष्क को इस तरह का बना लेते हैं कि उन्हें हर चीज सकारात्मक व खूबसूरत लगती है।”
-KMSRAJ51

“हमारी सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि हम अपने जीवन का कुछ सेकंड, प्रतिघंटा और प्रतिदिन कैसे बिताते हैं”
-KMSRAJ51

-A Message To All-

मत करो हतोत्साहित अपने शब्दों से ……आने वाली नयी पीढ़ी को ,
वो भी करेंगे कुछ ऐसा एक दिन…. जिसे देखेगा ज़माना ….पकड़ती हुई नयी सीढ़ी को ॥

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@2014-all rights reserve under kmsraj51.

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

ह्रदय स्वस्थ्य रखने के उपाय !!

kmsraj51 की कलम से …..

Tips To Keep Your Heart Healthy in Hindi

ह्रदय स्वस्थ्य रखने के उपाय

heartKeep Your Heart Healthy

Green Tea का प्रयोग करें:

=> इसमें antioxidants होते हैं जो आपके cholesterol को कम करते हैं , और ये blood pressure control करने में भी मददगार होते हैं.
=> इसमें कुछ ऐसे तत्व भी पाए जाते हैं जो cancer growing cells को मारते हैं.
=> ये असमान्य blood clotting को भी रोकती है , जिस वजह से ये strokes रोकने में भी सहायक है.

Olive Oil का प्रयोग करें:

=> खाना बनाने के लिए जैतून तेल का प्रयोग करें.
=> इसमें मौजूद fat bad LDL cholesterol को कम करने में सहायक होता है.
=> Olive Oil में भी antioxidants होते हैं , जो अन्य कई बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं.

पर्याप्त नीद लें:

=> खासतौर से 4o साल के ऊपर के व्यक्ति के लिए अच्छी नीद बहुत ज़रूरी है.
=> पर्याप्त नीद ना लेने पर शरीर से stress hormones निकलते हैं, जो धमनियों को block कर देते हैं और जलन पैदा करते हैं.

फाइबर युक्त आहार लें:

=> Research के आधार पर ये prove हो चुका है कि आप जितना अधिक fibre खायेंगे , आपके heart-attack के chances उतने ही कम होंगे.
=> अधिक से अधिक beans, soups, और salad का प्रयोग करें.
=> Meat की जगह Sea-food खाना सहायक होगा.

Breakfast में fruit juice लें :

=> Orange Juice में folic acid होता है जो heart attack के खतरे को कम करता है.
=> Grape Juice में flavonoids and resveratrol होता है जो artery block करने वाले clots को कम करता है.
=> ज्यादातर juice आपके लिए अच्छे हैं बस ध्यान रखिये कि वो sugar free हों.

रोज़ exercise करें :

=> यदि आप daily 20 मिनट तक व्यायाम करते हैं तो आपका heart-attack होने का खतरा एक-तिहाई तक घाट जाता है.
=> Walk पर जाना , aerobics या dance classes करना फायदेमंद होगा.

खाने में लहसुन का प्रयोग करें:

=> अध्यनो में पाया गया है कि लहसुन खाने से blood pressure कम रेह्र्ता है.
=> ये cholesterol को भी कम करता है और साथ ही blood sugar levels को भी control में रखता है.
इससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी बढती है.

Post inspired by: AKC (http://www.achhikhabar.com/tag/healthy-heart/), I am grateful to Mr. Gopal Mishra & AKC.

Note::-
यदि आपके पास Hindi या English में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

kms_Silence_hd

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

जीरा खाने का फायदा – गर्मी के दिनों में !!

kmsraj51 की कलम से …..

Ayurvedic-Tips-in-Hindi-kmsraj51

गर्मियों के मौसम में जी घबराना, चक्कर आना, भूख न लगना, दस्त लगना आदि समस्याएं बहुत आम होती हैं। ऐसे में, गर्मी से होने वाली इन प्रॉब्लम्स से कुछ छोटे-छोटे घरेलू नुस्खे जल्द राहत दिला सकते हैं। गर्मी में जीरा बहुत उपयोगी होता है। जीरे सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता है, यह कई हेल्थ प्रॉब्लम्स की छुट्टी कर सकता है। आइए, जानते हैं जीरे में छुपे कुछ ऐसे ही गुणों के बारे में……..

=> गर्मियों में जीरा विशेष रूप से लाभदायक होता है। गर्मी बढ़ जाने पर दो कप पानी में आधा चम्मच धनिया, आधा चम्मच सौंफ व आधा चम्मच जीरा डालकर उबाल लें। ठंडा होने पर छानकर उसमें मिश्री मिलाकर पिएं, बहुत राहत मिलेगी।

=> गर्मी के कारण अगर दस्त लग जाए तो जीरा व शक्कर दोनों को बराबर मात्रा में मिलाकर बारीक पीस कर पाउडर बना लें।
एक से दो छोटे चम्मच ठंडे पानी से इस पाउडर को लें। गर्मी से लगने वाली दस्त तुरंत बंद हो जाएगी।

=> जीरा बॉडी में शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। जीरे को पीसकर एक बोतल में भर लें। आधा छोटा चम्मच जीरा पाउडर दिन में दो बार पानी के साथ लें।
डायबिटीज रोगियों को यह काफी फायदा पहुंचाता है।

=> जीरा, अजवाइन, सौंठ, काली मिर्च और काला नमक अंदाज से लेकर चूर्ण बना लें। इसमें थोड़ी-सी घी में भुनी हींग मिलाकर खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है।
पेट का दर्द ठीक होता है।

=> जो लोग अनिद्रा रोग से ग्रसित हैं, उनके लिए जीरा एक अच्छी दवा है। एक छोटा चम्मच भुना जीरा पके हुए केले के साथ मैश
करके रोजाना रात के खाने के बाद खाएं। गहरी नींद आएगी।

=> गर्मी के कारण भूख न लगना भी एक आम समस्या होती है। अगर आपको गर्मी में भूख नहीं लगती या खाना नहीं पचता तो एक-चौथाई चम्मच जीरा पाउडर और काली मिर्च पाउडर को एक गिलास दूध में डालकर पिएं।

=> जीरे को नींबू के रस में भिगोकर नमक मिलाकर सुखा दें। इसे पीसकर पाउडर बनाएं और बोतल में भरकर रख लें।
इसे लेने से गर्भवती महिला का जी मिचलाना बंद हो जाता है।

=> जीरे में सिरका मिलाकर खाएं, हिचकी तुरंत बंद हो जाएगी।

=> रोज एक चम्मच भुना हुआ जीरा खाएं। इसे चबाने सेे याददाश्त अच्छी रहती है।

=> एक टी स्पून कच्चा जीरा चबा कर खाने से पेट से जुड़ी सभी समस्याओं से राहत मिलती है।

=> एक छोटा चम्मच जीरा लें। उसे एक गिलास पानी मे भिगो कर रात भर के लिए रख दें। सुबह उबाल लें। इसे चाय की तरह पिएं और जीरा भी चबा लें।
एक महीने में ही वजन मे कमी आने लगती है। पेशाब भी खुल कर आता है।

=> जीरा कैल्शियम और आयरन से भरपूर है। ये दूध पिलाने वाली माताओं और गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत लाभकारी होता है।
गर्भवती महिलाओं को रोजाना एक चम्मच भुना जीरा खाना चाहिए।

=> जीरे में विटामिन ए और विटामिन सी होता है। इसीलिए इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

=> आंवले की गुठली निकालकर पीसकर भून लें। फिर उसमें स्वादानुसार जीरा, अजवाइन, सेंधा नमक और थोड़ी-सी भुनी हुई हींग मिलाकर गोलियां बना लें। इसे खाने से भूख बढ़ती है। साथ ही, एसिडिटी की समस्या भी खत्म हो जाती है।

=> जीरा उबाल लें और छानकर ठंडा करें। इस पानी से मुंह धोने से आपका चेहरा साफ और चमकदार होगा।

=> जिन्हें अस्थमा, ब्रोंकाइटिस या सांस संबंधी समस्या हो, उन्हें जीरे का नियमित उपयोग करना चाहिए।

=> दक्षिण भारत में लोग अक्सर जीरे का पानी पीते हैं। उनके अनुसार इसके सेवन से मौसमी बीमारियां नहीं होतीं और पेट भी ठीक रहता है।

=> 50 ग्राम जीरे में 50 ग्राम मिश्री मिलाकर पीसकर पाउडर बना लें। इसे सुबह-शाम एक चम्मच लें। बवासीर में आराम मिलेगा।

AYURVEDA-1

Note::-
यदि आपके पास Hindi या English में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

baby-TU NA HO NIRASH KABHI MAN SE

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

गर्मी से बचने के घरेलू उपाय।

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMSRAJ51-4

ϒ गर्मी से बचने के घरेलू उपाय। ϒ

Summer-Sun-kmsraj51आया मौसम गर्मी, लू का……

दोस्तों,
मई का महीना आ गया है और सूरज अपनी प्रखर किरणों की तीव्रता से संसार के जलियांश (स्नेह ) को सुखा कर वायु में रूखापन और ताप बढ़ा कर मनुष्यों के शरीर के ताप की भी वृद्धि कर रहा है।

गर्मी में होने वाले आम रोग – गर्मी में लापरवाही के कारण सरीर में निर्जलीकरण (dehydration), लू लगना, चक्कर आना, घबराहट होना , नकसीर आना, उलटी-दस्त, Sun-burn, घमोरिया जैसी कई diseases हो जाती हैं।

  • इन बीमारियों के होने में प्रमुख कारण – गर्मी के मौसम में खुले शरीर, नंगे सर, नंगे पाँव धुप में चलना, तेज गर्मी में घर से खाली पेट या प्यासा बाहर जाना, कूलर या AC से निकल कर तुरंत धुप में जाना, बाहर धुप से आकर तुरंत ठंडा पानी पीना, सीधे कूलर या AC में बेठना, तेज मिर्च-मसाले, बहुत गर्म खाना, चाय, शराब इत्यादि का सेवन ज्यादा करना, सूती और ढीले कपड़ो की जगह सिंथेटिक और कसे हुए कपडे पहनना इत्यादि कारण गर्मी से होने वाले रोगों को पैदा कर सकते हैं।

हम कुछ छोटी-छोटी किन्तु महत्त्वपूर्ण बातो का ध्यान रख कर ,इन सबसे बचे रह कर, गर्मी का आनंद ले सकते हैं।

उपचार से बचाव बेहतर होता है,है ना?

  • तो चलिए हम कुछ बचाव के तरीके जानते हैं –
  • गर्मी में सूरज अपनी प्रखर किरणों से जगत के स्नेह को पीता रहता है, इसलिए गर्मी में मधुर(मीठा), शीतल(ठंडा), द्रव (liquid) तथा इस्निग्धा खान-पान हितकर होता है।
  • गर्मी में जब भी घर से निकले, कुछ खा कर और पानी पी कर ही निकले, खाली पेट नहीं।
  • गर्मी में ज्यादा भारी (garistha), बासी भोजन नहीं करे, क्योंकि गर्मी में शरीर की जठराग्नि मंद रहती है। इसलिए वह भारी खाना पूरी तरह पचा नहीं पाती और जरुरत से ज्यादा खाने या भारी खाना खाने से उलटी-दस्त की शिकायत हो सकती है।
  • गर्मी में सूती और हलके रंग के कपडे पहनने चाहिये।
  • चेहरा और सर रुमाल या साफी से ढक कर निकलना चाहिये।
  • प्याज का सेवन तथा जेब में प्याज रखना चाहिये।
  • बाजारू ठंडी चीजे नहीं बल्कि घर की बनी ठंडी चीजो का सेवन करना चाहिये।
  • ठंडा मतलब आम(केरी) का पना, खस, चन्दन गुलाब फालसा संतरा का सरबत, ठंडाई सत्तू, दही की लस्सी, मट्ठा, गुलकंद का सेवन करना चाहिये। इनके अलावा लोकी, ककड़ी, खीरा, तोरे, पालक, पुदीना, नीबू , तरबूज आदि का सेवन अधिक करना चाहिये। शीतल पानी का सेवन , 2 से 3 लीटर रोजाना।
  • अगर आप योग के जानकार हैं, तो सीत्कारी, शीतली तथा चन्द्र भेदन प्राणायाम एवं शवासन का अभ्यास कीजिए ये शरीर में शीतलता का संचार करते हैं।

तो दोस्तों इन कुछ छोटी-छोटी बातो का ध्यान रख कर गर्मी की गर्मी से हम स्वयं को बचा सकते हैं।

Ayurvedic-Tips-in-Hindi-kmsraj51

अपनी सलाह और कमेंट्स ज़रूर शेयर करे…..

Post inspired by: http://www.achhikhabar.com/ (thanks a lot AKC & Mr. Gopal Mishra).

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Editor in Chief, Founder & CEO
of,,  https://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान और ध्यान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– © Best of Luck ® ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

* अपनी आदतों को कैसे बदलें।

निश्चित सफलता के २१ सूत्र।

क्या करें – क्या ना करें।

∗ जीवन परिवर्तक 51 सकारात्मक Quotes of KMSRAJ51

* विचारों का स्तर श्रेष्ठ व पवित्र हो।

* अच्छी आदतें कैसे डालें।

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

~KMSRAJ51