जीरा खाने का फायदा – गर्मी के दिनों में !!

kmsraj51 की कलम से …..

Ayurvedic-Tips-in-Hindi-kmsraj51

गर्मियों के मौसम में जी घबराना, चक्कर आना, भूख न लगना, दस्त लगना आदि समस्याएं बहुत आम होती हैं। ऐसे में, गर्मी से होने वाली इन प्रॉब्लम्स से कुछ छोटे-छोटे घरेलू नुस्खे जल्द राहत दिला सकते हैं। गर्मी में जीरा बहुत उपयोगी होता है। जीरे सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता है, यह कई हेल्थ प्रॉब्लम्स की छुट्टी कर सकता है। आइए, जानते हैं जीरे में छुपे कुछ ऐसे ही गुणों के बारे में……..

=> गर्मियों में जीरा विशेष रूप से लाभदायक होता है। गर्मी बढ़ जाने पर दो कप पानी में आधा चम्मच धनिया, आधा चम्मच सौंफ व आधा चम्मच जीरा डालकर उबाल लें। ठंडा होने पर छानकर उसमें मिश्री मिलाकर पिएं, बहुत राहत मिलेगी।

=> गर्मी के कारण अगर दस्त लग जाए तो जीरा व शक्कर दोनों को बराबर मात्रा में मिलाकर बारीक पीस कर पाउडर बना लें।
एक से दो छोटे चम्मच ठंडे पानी से इस पाउडर को लें। गर्मी से लगने वाली दस्त तुरंत बंद हो जाएगी।

=> जीरा बॉडी में शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। जीरे को पीसकर एक बोतल में भर लें। आधा छोटा चम्मच जीरा पाउडर दिन में दो बार पानी के साथ लें।
डायबिटीज रोगियों को यह काफी फायदा पहुंचाता है।

=> जीरा, अजवाइन, सौंठ, काली मिर्च और काला नमक अंदाज से लेकर चूर्ण बना लें। इसमें थोड़ी-सी घी में भुनी हींग मिलाकर खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है।
पेट का दर्द ठीक होता है।

=> जो लोग अनिद्रा रोग से ग्रसित हैं, उनके लिए जीरा एक अच्छी दवा है। एक छोटा चम्मच भुना जीरा पके हुए केले के साथ मैश
करके रोजाना रात के खाने के बाद खाएं। गहरी नींद आएगी।

=> गर्मी के कारण भूख न लगना भी एक आम समस्या होती है। अगर आपको गर्मी में भूख नहीं लगती या खाना नहीं पचता तो एक-चौथाई चम्मच जीरा पाउडर और काली मिर्च पाउडर को एक गिलास दूध में डालकर पिएं।

=> जीरे को नींबू के रस में भिगोकर नमक मिलाकर सुखा दें। इसे पीसकर पाउडर बनाएं और बोतल में भरकर रख लें।
इसे लेने से गर्भवती महिला का जी मिचलाना बंद हो जाता है।

=> जीरे में सिरका मिलाकर खाएं, हिचकी तुरंत बंद हो जाएगी।

=> रोज एक चम्मच भुना हुआ जीरा खाएं। इसे चबाने सेे याददाश्त अच्छी रहती है।

=> एक टी स्पून कच्चा जीरा चबा कर खाने से पेट से जुड़ी सभी समस्याओं से राहत मिलती है।

=> एक छोटा चम्मच जीरा लें। उसे एक गिलास पानी मे भिगो कर रात भर के लिए रख दें। सुबह उबाल लें। इसे चाय की तरह पिएं और जीरा भी चबा लें।
एक महीने में ही वजन मे कमी आने लगती है। पेशाब भी खुल कर आता है।

=> जीरा कैल्शियम और आयरन से भरपूर है। ये दूध पिलाने वाली माताओं और गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत लाभकारी होता है।
गर्भवती महिलाओं को रोजाना एक चम्मच भुना जीरा खाना चाहिए।

=> जीरे में विटामिन ए और विटामिन सी होता है। इसीलिए इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

=> आंवले की गुठली निकालकर पीसकर भून लें। फिर उसमें स्वादानुसार जीरा, अजवाइन, सेंधा नमक और थोड़ी-सी भुनी हुई हींग मिलाकर गोलियां बना लें। इसे खाने से भूख बढ़ती है। साथ ही, एसिडिटी की समस्या भी खत्म हो जाती है।

=> जीरा उबाल लें और छानकर ठंडा करें। इस पानी से मुंह धोने से आपका चेहरा साफ और चमकदार होगा।

=> जिन्हें अस्थमा, ब्रोंकाइटिस या सांस संबंधी समस्या हो, उन्हें जीरे का नियमित उपयोग करना चाहिए।

=> दक्षिण भारत में लोग अक्सर जीरे का पानी पीते हैं। उनके अनुसार इसके सेवन से मौसमी बीमारियां नहीं होतीं और पेट भी ठीक रहता है।

=> 50 ग्राम जीरे में 50 ग्राम मिश्री मिलाकर पीसकर पाउडर बना लें। इसे सुबह-शाम एक चम्मच लें। बवासीर में आराम मिलेगा।

AYURVEDA-1

Note::-
यदि आपके पास Hindi या English में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

baby-TU NA HO NIRASH KABHI MAN SE

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————