तुम्हे मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा / कुमार विश्वास ~ Could never give you love / Kumar Vishwas !!

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms


** ~ तुम्हे मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा / कुमार विश्वास ~ **

sapana


ओ कल्पव्रक्ष की सोनजुही!
ओ अमलताश की अमलकली!
धरती के आतप से जलते…
मन पर छाई निर्मल बदली…
मैं तुमको मधुसदगन्ध युक्त संसार नहीं दे पाऊँगा|
तुम मुझको करना माफ तुम्हें मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा||

तुम कल्पव्रक्ष का फूल और
मैं धरती का अदना गायक
तुम जीवन के उपभोग योग्य
मैं नहीं स्वयं अपने लायक
तुम नहीं अधूरी गजल शुभे
तुम शाम गान सी पावन हो
हिम शिखरों पर सहसा कौंधी
बिजुरी सी तुम मनभावन हो.
इसलिये व्यर्थ शब्दों वाला व्यापार नहीं दे पाऊँगा|
तुम मुझको करना माफ तुम्हें मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा||

तुम जिस शय्या पर शयन करो
वह क्षीर सिन्धु सी पावन हो
जिस आँगन की हो मौलश्री
वह आँगन क्या वृन्दावन हो
जिन अधरों का चुम्बन पाओ
वे अधर नहीं गंगातट हों
जिसकी छाया बन साथ रहो
वह व्यक्ति नहीं वंशीवट हो
पर मैं वट जैसा सघन छाँह विस्तार नहीं दे पाऊँगा|
तुम मुझको करना माफ तुम्हें मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा||

मै तुमको चाँद सितारों का
सौंपू उपहार भला कैसे
मैं यायावर बंजारा साधू
सुर श्रृंगार भला कैसे
मैन जीवन के प्रश्नों से नाता तोड तुम्हारे साथ शुभे
बारूद बिछी धरती पर कर लूँ
दो पल प्यार भला कैसे
इसलिये विवश हर आँसू को सत्कार नहीं दे पाऊँगा|
तुम मुझको करना माफ तुम्हें मैं प्यार नहीं दे पाऊँगा||

Post Inspired by Kumar Vishwas.
Lots of thanks to Mr.Kumar Vishwas
http://www.kumarvishwas.com/

::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
kms1006


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!


….. All Type Information Technology Knowledge Provider Website …..
** ~ प्रौद्योगिकी के सागर – OCEAN OF TECHNOLOGY ~ **

http://mcitpkmsraj51.blogspot.in/

:::::::::::~::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. :::::::::::

फूल – हिंदी कविता

Kmsraj51 की कलम से…..

Kmsraj51-CYMT08

 – Poem on Flowers in Hindi !!

रंगों की पहचान है फूल
हम सबकी मुस्कान है फूल
ऋतु बसंत की शान है फूल
ईश्वर का वरदान है फूल.

काँटों में भी ये उग जाते
हर मुश्किल को धता बताते
कीचड़ में भी ये खिल जाते
फिर भी सबके मन को भाते.

ख़ुश्बू की पहचान है फूल
माँ धरती की आन है फूल
सुन्दरता का मान है फूल
उपवन की तो जान है फूल.

मिलकर रहना ये सिखलाते
भेदभाव ना ये दिखलाते
कोमलता का पाठ पढ़ाते
मुस्काना हमको सिखलाते.

रंग-बिरंगे प्यारे फूल
सबसे सुन्दर न्यारे फूल
जांत-पांत से परे है फूल
लाल, गुलाबी, हरे ये फूल.

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

More quotes visit at kmsraj51 copy

खुद को साबित करने के लिए मौका मिलने के आप हकदार हैं। सफलता की नींव आप खुद हैं। 

दूसरे क्या सोच रहे हैं, इस बारे में अनुमान लगाते रहना नकारात्मक सोच की निशानी है।

 

 

_______Copyright © 2014 kmsraj51.com All Rights Reserved.________