Spiritual Education

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M TSpiritual Education

Angel-kmsraj51

Spiritual education leads us back to the understanding and the experience of our holistic existence as human beings, to the knowledge that we are spiritual, as well as physical, mental and emotional beings.

A true spiritual education could be described as:
• learning from others
• growing through others
• integrating with others
• contributing to others

When we are genuinely learning, only then can we experience spiritual growth. When we grow, we integrate with others and it is in that integration that there is a natural and mutual contribution to nature and other souls. These four processes of education are constantly at work, but only happen in a way that is enjoyable and meaningful when the spiritual resources of the self like peace, joy and love are activated and creatively used.

These resources, along with the mind and intellect, enrich the way we see the world, the way we interact with it and the way we individually create our place in it. These resources are the original qualities of the self, which we have not properly used for a long time. By become spiritually aware, we start to harness and use these positive energies.

Message for the day 25-06-2014

A deep understanding and an attitude of pure feelings results in positive thinking.

Projection: When we talk about positive thinking, it is usually just ‘think positive’ and ‘be positive’. But just saying this, either to others or to myself, doesn’t help to change my thoughts permanently, in fact usually, not even temporarily.

Solution: Real positive thinking is much deeper than just to think positive. For this I need to understand and see things as they are, without colouring them with my own attitudes. Then I can deal with things in the most appropriate way, having understood everything accurately.

In Spiritual Service,

Brahma Kumaris

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational Story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:kmsraj51@yahoo.in. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

also send me E-mail:

kmsraj51@yahoo.in 

&

 cymtkmsraj51@hotmail.com

kmsraj51 की कलम से …..

Coming soon book (जल्द ही आ रहा किताब)…..

“तू ना हो निराश कभी मन से”

 

_________________ all rights reserve under kmsraj51-2013 _________________

 

The Original Ingredients Of The Soul

kmsraj51 की कलम से …..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51

The Original Ingredients Of The Soul 

Our original resources are very simply – peace, love, purity, knowledge and happiness. In Raja Yoga meditation these are called the five original qualities of the soul. When we return our consciousness to these five qualities and remember them, then the following feelings arise in us, which finally get reflected in our actions: 

• Love: I care and I share. 
• Peace: I harmonize and reconcile (adjust). 
• Purity: I respect and I honour. 
• Knowledge: I am and I exist. 
• Happiness: I express and I enjoy. 

To understand and remember these qualities, we need to recognize the heavy deep shadows or personality traits (sanskars) which have blotted them out, or polluted them. Sometimes we don’t recognize the pollutants because they have ingrained themselves so deeply into the personality that we say ‘I am this’. True, complete spiritual knowledge, makes us aware of these pollutants and the practice of meditation empowers us to dilute them and get them out of our consciousness.

In Spiritual Service Brahma Kumaris

brahmakumaris-kmsraj51

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational Story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:kmsraj51@yahoo.in. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

kmsraj51 की कलम से …..

Coming soon book (जल्द ही आ रहा किताब)…..

“तू ना हो निराश कभी मन से”

 

95 + देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला वेबसाइट हैं॥

I am grateful to all of my dear readers.

 

https://kmsraj51.wordpress.com/

 

_________________ all rights reserve under kmsraj51-2013 _________________

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

Kmsraj51 की कलम से…..

Kmsraj51-CYMT08

कृष्ण मोहन सिंह 51 या (kmsraj51) ~ सकारात्मक विचारों का समूह …..

:- गहराई से सोचना प्रत्येक शब्द 

मेरे(kmsraj51) कुछ व्यक्तिगत सकारात्मक विचारों का समूह …..

अपनी सोच को हमेशा सकारात्मक रखना …..

हमेशा मन को शांत रखना …..

दिमाग को हमेशा अनुसंधान में लगाये रखना …..

हमेशा (सदैव) अन्य लोगों से अपनी सोच को अलग रखना …..

हमेशा अपनी मन की कमजोरी को दूर रखना …..

हमेशा आंतरिक आत्मा की (आत्मा के अंदर की आवाज) आवाज सुनो …..

हमेशा ईस सूत्र का उपयोग करें …..

….. कोशिश + कोशिश + कोशिश + कोशिश + कोशिश = सफलता

आपके जीवन में हमेशा खुशी मिलेगी …..

आपका कृष्ण मोहन सिंह 51 या (kmsraj51) ….. मैं एक शुद्ध आत्मा हूँ!! …..

** ओम शांति!! ~ ओम साईराम!! ~ ओम शांति!! ~ ओम साईराम!! ~ओम शांति!! ~ ओम साईराम!!

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

-KMSRAJ51

Please Share your comment`s.

आपका सबका प्रिय दोस्त,

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,, http://kmsraj51.com/

———– @ Best of Luck @ ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

APT-KMSRAJ51-CYMT

“अगर जीवन में सफल हाेना हैं, ताे कभी भी काेई भी कार्य करें ताे पुरें मन से करे।

जीवन में सफलता आपकाे देर से ही सही लेकिन सफलता आपकाे जरुर मिलेगी॥”

 ~KMSRAJ51

“अगर जीवन में सफल हाेना हैं. ताे जहाँ १० शब्दाें से काेई बात बन जाये वहा पर,

१०० शब्द बाेलकर अपनी मानसिक और वाणी की ऊर्जा को नष्ट नहीं करना चाहिए॥”

 ~KMSRAJ51

 

 

_______Copyright © 2015 kmsraj51.com All Rights Reserved.________

आसान आयुर्वेदिक घरेलू उपचार !!

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

 

 

0 दिमाग तेज बनाने के लिए रोजाना सुबह सैर करें। हरी घास पर चलने से दिमाग के साथ-साथ ब्लड प्रेशर भी ठीक बना रहता है।

0 दांत मजबूत बनाने के लिए नीम की दातून का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे दांत में कीड़ा नहीं लगता और आपके दांत मजबूत भी बनते हैं।

0 सर्दियों में अपनी डाइट में ड्राई फ्रूट्स को भी शामिल करें। ये पौष्टिक तो हैं ही, त्वचा के लिए भी लाभदायक हैं।

0 फ्रिज की ठंडी चीजें सीधे खाने से बचें। इसे हल्का सा गर्म करके खायेंगे, तो पाचन तंत्र ठीक रहेगा।

0 गर्दन में दर्द न हो, इसके लिए सोने का सही तरीका अपनाएं। तकिए का इस्तेमाल कम करें। फिर भी दर्द है तो एक्सरसाइज या योग करें। तब भी आराम न मिले तो डाक्टर से सलाह लें।

Ayurvedic-Tips-in-Hindi-kmsraj51

0 गर्म मसाला चूर्ण को नींबू के रस में भिगो दें। भोजन के बाद इसे आधा चम्मच लें। यह पाचन के लिए बेहतरीन दवाई का काम करता है।

0 ज्यादा लिपिस्टिक लगाने से कभी-कभी होठों का रंग काला पड़ने लगता है। हो सके तो इसे लगाने से परहेज करें। लगानी भी पड़े तो, बाद में उसे साफ करके होंठों पर नींबू का रस लगायें। इससे आपके होंठ काले नहीं पडेंगे।

0 अगर आपको पिंपल की समस्या है, तो साबून का प्रयोग न करें। साबुन आपके चेहरे से आयल को सोख लेता है जिससे आपकी समस्या कम होने की जगह बढ़ सकती है। चेहरे पर नीम का फेस पैक लगाएं।

0 अगर आपकी आंखों के नीचे काले घेरे या झुर्रियां पड़ गयी हैं, तो दूध की मलाई से उस जगह की रोजाना मालिश करें।

0 त्वचा को मुलायम बनाने के लिए शहद में नींबू का रस मिलाकर पांच मिनट मालिश करें।

0 तनाव न हो, इसके लिए सकारात्मक सोच अपनाएं। अधिक तनाव से केवल आपके दिमाग पर असर पड़ता है बल्कि ब्यूटी पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। जैसे बालों का गिरना, आंखों के नीचे काले घेरे होना और चेहरे की चमक घीरे-धीरे गायब होने लगेगी।

0 बाल सफेद न हों, इसके लिए विटामिन-ई युक्त तेल का प्रयोग करें। इससे आपके बाल असमय सफेद नहीं होंगे साथ ही गिरना बन्द हो जायेंगे। खाने में भी इस तेल का इस्तेमाल फायदेमंद होता है।

 

Post inspired by-Poojya Acharya Bal Krishan Ji Maharaj

Bal Krishna Ji-2 Bal Krishna Ji

I am grateful to “पूज्य आचार्य बाल कृष्ण जी महाराज”

&

http://patanjaliayurved.org/

 

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Success Life_kmsraj51

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

 

 

“गृहस्थी का आधार सिर्फ धन या वासना ना रहे”

kmsraj51 की कलम से …..

anniversary-1x


“गृहस्थी का आधार सिर्फ धन या वासना ना रहे”


SOLUTION

समाज या देश कोई भी हो, अक्सर लोगों का वैवाहिक जीवन दो ही चीजों पर टिक जाता है अर्थ और काम। या तो रिश्ते को अर्थ की भूख ढंक लेती है या पति-पत्नी वासना की चादर ओढ़ लेते हैं। दोनों ही परिस्थितियों में गृहस्थी केवल एक समझौता हो जाती है। दाम्पत्य एक दिव्य संबंध होता है, जो सीधे परमात्मा से जोड़ता है। अपनी गृहस्थी को मंदिर बनाइए। इसमें जैसे ही परमात्मा का प्रवेश होगा, ये सांसारिकता से ऊपर उठ जाएगी।
विवाह केवल शारीरिक आवश्यकता या वंश वृद्धि के लिए नहीं होता। भागवत के प्रसंग में चलिए। जहां सृष्टि का निर्माण हुआ। पहले पुरुष मनु और पहली स्त्री शतरूपा का जन्म हुआ। उन पर ही मानव वंश की वृद्धि का भार भी था लेकिन उन्होंने कभी अपने रिश्ते का आधार वासना को नहीं बनाया। उन्होंने संतान उत्पत्ति को भी परमात्मा को समर्पित किया। घोर तपस्या की। ब्रह्मा को प्रसन्न किया। वरदान मांगा देव तुल्य संतानों की उत्पत्ति का।
मनु और शतरूपा ने ही सारे मानव और देव वंश को आगे बढ़ाया लेकिन उनके संबंध में न तो अर्थ था और ना ही कभी काम आया। दोनों ही भाव उनसे दूर रहे। दोनों ने अपने दाम्पत्य में कुछ कड़े नियम तय किए। जैसे संभोग सिर्फ संतान उत्पत्ति का साधन रहे, ना कि वो पूरे रिश्ते का आधार बने। देव पूजा नियमित हो, जो भी संतान उत्पन्न हो उसमें उच्च संस्कारों का संचार किया जाए। इसलिए मनु को आदि पुरुष माना गया है। जिन्होंने समाज को पूरी व्यवस्था दी।

हम भी गृहस्थी में रहें तो पति-पत्नी दोनों अपने लिए कुछ नियम तय करें। जिसमें परिवार, संतान, समाज और परमात्मा सभी के लिए कुछ सकारात्मक और रचनात्मक हो। तभी दाम्पत्य सफल भी होगा।

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!


Top Hindi Website Readers Choice,
COVERED 95+ COUNTRY READER`S


TUFA AAYE THO-with link kms copy


——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

परिवार वह है जो सिर्फ खुद के बारे में ही ना सोचे !!


kmsraj51 की कलम से …..
TUFA AAYE THO-with link kms copy

“परिवार वह है जो सिर्फ खुद के बारे में ही ना सोचे”

mom

रामचरित मानस के एक प्रसंग में चलते हैं। रावण का वध करके राम अयोध्या लौटे। भरत ने उन्हें राजकाज समर्पित किया। एक दिन राम एक पेड़ के नीचे बैठकर अपने तीनों भाई भरत, लक्ष्मण और शत्रुघ्न को जीवन में देश, समाज और परिवार का महत्व समझा रहे हैं।
राम अपने भाइयों को समझा रहे हैं कि समाज और राष्ट्र का हित सबसे बड़ा है। हर परिवार को उसके बारे में सोचना चाहिए। जब तक हम दूसरे की पीड़ा और व्यथा नहीं समझेंगे, राष्ट्र का विकास संभव नहीं है।
राम कहते हैं – परहित सरिस धरम नहीं भाई। परपीड़ा सम नहीं अधमाई।।
यानी दूसरों के हित और सुख से बढ़कर कोई धर्म नहीं है और दूसरों को पीड़ा देने से बड़ा कोई पाप नहीं।
राम ने अपने परिवार में जो संस्कार और विचारों की नींव रखी वे विचार और संस्कार आज हमारे परिवारों में भी आवश्यक हैं। हर परिवार को केवल खुद के लिए ही नहीं, दूसरों के लिए, समाज और राष्ट्र के लिए भी सोचना चाहिए।
इंसानों के प्रेमपूर्ण मिलन से परिवार बनता है और परिवारों के व्यवस्थित समूह को ही समाज कहते हैं। यह तो जाहिर सी बात है कि श्रेष्ठ समाज ही किसी विकसित और प्रगतिशील देश का आधार बनता है। लोगों की जनसंख्या या बसावट को ही समाज नहीं कहते, वह तो समाज कम और भीड़ अधिक है।
वास्तव में समाज उस मानव समुदाय को कहते हैं जिसके सारे परिवार और सदस्य एक-दूसरे के साथ इस तरह से मिल-जुल कर रहते हैं कि सभी के विकास में सहयोगी बनते हैं। इंसानी जिंदगी का जो अंतिम मकसद है उसे पाने या उस तक पहुंचने में समाज सहायक हो सकता है। यदि समाज मानव जीवन के असली और सबसे बड़े मकसद को पाने में सहायक नहीं हो सकता तो उस समाज को सफल नहीं कहा जा सकता।

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

9-3-14 kmsraj51

KRISHNA MOHAN SINGH
Founder & CEO
Of
https://kmsraj51.wordpress.com/

ID: kmsraj51@yahoo.in

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

TOP HINDI WEBSITE GRADE BY READER`S !!

kmsraj51 की कलम से …..
anniversary-1x

COVERED 95+ COUNTRY READER`S

TUFA AAYE THO-with link kms copy

https://kmsraj51.wordpress.com/

TOP HINDI WEBSITE GRADE BY READER`S

Covered Health Problem & Solutions, Motivational Thoughts,
Inspirational story, Poetry, Spiritual thoughts, kids’ story,
Exam Success, Success Life Mantra, Success thoughts, and many more top articles.

——————————————————————————–
——————————————————————————–


KRISHNA MOHAN SINGH
ID: kmsraj51@yahoo.in


https://kmsraj51.wordpress.com/

TUFA AAYE THO-with link kms copy

———————– https://kmsraj51.wordpress.com/ ——————————

Some-Full-Forms of Information Technology !!

kmsraj51 की कलम से…..
anniversary-1x

-A Message To All-

मत करो हतोत्साहित अपने शब्दों से ……आने वाली नयी पीढ़ी को ,
वो भी करेंगे कुछ ऐसा एक दिन…. जिसे देखेगा ज़माना ….पकड़ती हुई नयी सीढ़ी को ॥


**************************************

सूचना प्रौद्योगिकी के कुछ पूर्ण प्रपत्र

LLC – Logical Link Control

DIX – Digital, Intel and Xerox

CSMA/CD – Carrier Sense Multiple Access/Collision Detection

MAU – Medium Attachment Unit

UTP – Unshielded Twisted Pair

STP – Shielded Twisted Pair

FOIRL – Fiber Optic Inter-Repeater Link

MMF – Multimode Fiber

SMF – Single Mode Fiber

MTRJ – Mechanical Transfer Registered Jack

SFF – Small Form Factor

NRZ – Non Return to Zero

LC – Local Connector

ift

MSAU – Multi Station Access Unit

UDC – Universal Data Connector

IDC – IBM-type Data Connector

FDDI – Fiber Distributed Data Interface

ANSI – American National Standards Institute

NIC – Network Interface Card/Connector

LAN – Local Area Network

VLANs – Virtual Local Area Networks

MAN – Metropolitan Area Network

WAN – Wide Area Network

SAN – Storage Area Network

CAN – Campus Area Network

BAN – Branch Area Network

PAN – Personalized Area Network

SoAN – Solaris Area Network (This Network Using Setellite).

PING – Packet Internet Gopher

NetBIOS – Network Basic Input/output System

NetBEUI – NetBIOS Extended User Interface

MAC – Media Access Control

ICMP – Internet Control Message Protocol

ARP – Address Resolution Protocol

RARP – Reverse Address Resolution Protocol

TFTP – Trivial File Transfer Protocol

FTP – File Transfer Protocol

IGP – Interior Gateway Protocol

EGP – Exterior Gateway Protocol

BGP – Border Gateway Protocol

OSPF – Open Shortest Path First

SLIP – Serial Line Internet Protocol

OSI – Open Systems Interconnection

MTU – Maximum Transmission Unit

NFB – Number of Fragment Blocks

RD – Reported Distance

FD – Feasibility Distance

FC – Feasibility Condition

IKE – Internet Key Exchange

ESP – Encapsulating Security Payload

ISO – International Organization for Standardization

ATM – Asynchonous Transfer Mode

ASICs – Application-Specific Integrated Circuits

VRRP – Virtual Router Redundancy Protocol

APIPA – Automatic Private Internet Protocol Addressing

DHCP – Dynamic Host Configuration Protocol

DNS – Domain Name System/Service, or Server

IP – Internet Protocol

TCP – Transmission Control Protocol

UDP – User Datagram Protocol

FTP – File Transfer Protocol

SFTP – Secure File Transfer Protocol

TFTP – Trivial File Transfer Protocol

SMTP – Simple Mail Transfer Protocol

HTTP – Hyper Text Transfer Protocol

HTTPS – Hyper Text Transfer Protocol Secure

POP3/IMAP4 – Post Office Protocol Version 3/ Internet Message Access

IT-3

Protocol Version 4

Telnet – TELNET

SSH – Secure Shell

ICMP – Internet Control Message Protocol

ARP – Address Resolution Protocol

RARP – Reserve Address Resolution Protocol

NTP – Network Time Protocol

NNTP – Network News Transport Protocol

SCP – Secure Copy Protocol

LDAP – Lightweight Directory Access Protocol

IGMP – Internet Group Multicast Protocol

LPR – Line Printer Remote

WINS – Windows Internet Naming System

NMS – Network Management System

MIB – Management Information Base

SMB – Server Messenger Block

CIFS – Common Internet File System

AFP – Apple Filing Protocol

NFS – Network File System

NCP – Netware Core Protocol

SAN – Storage Area Network

ISDN – Integrated Services Digital Network

PSTN – Public Switched Telephone Network

CIR – Committed Information Rate

MAC – Medium Access Control

AD – Active Directory

DC – Domain Controller

ADC – Additional Domain Controller

CDC – Child Domain Controller

NVT – Network Virtual Terminal

LLC – Logical Link Control

MAC – Media Access Control

DQDB – Distributed Queue Dual Bus

PAD – Packet Assembler Disassembler

PDU – Protocol Data Unit

DSAP – Destination Service Access Point

SSAP – Source Service Access Point

I-Frame – Information Frame

S-Frame – Supervisory Frame

U-Frame – Unnumbered Frame

ERD – Emergency Repair Disk

ASR – Automated System Recovery

CIDR – Classless Inter-Domain Routing

JFFNMS – Just For Fun Network Monitoring System

NMPs – Network Monitoring Platforms

NBMA – Non-Broadcast Multi-Access

RAS – Remote Access Services

PPP – Point-to-Point Protocol

SLIP – Serial Line Internet Protocol

PPPoE – Point-to-Point Protocol over Ethernet

PPTN – Point-to-Point Tunneling Protocol

VPN – Virtual Private Network

RDP – Remote Desktop Protocol

IT-1

________________________________________
________________________________________
IPSec – Internet Protocol Security

L2TP – Layer 2 Tunneling Protocol

SSL – Secure Sockets Layer

PAP – Password Authentication Protocol

CHAP – Challenge Handshake Authentication Protocol

EAP – Extensible Authentication Protocol

RADIUS – Remote Authentication Dial-In User Service

KDC – Key Distribution Center
_______________________________________________
_______________________________________________
xDSL – Digital Subscriber Line

Broadband Cable (cable modem)

POTS/PSTN – Plain Old Telephone Service / Public Switched Telephone Network
______________________________________________
______________________________________________
ICS – Internet Connection Sharing

CMTS – Cable Modem Termination System

WAP – Wireless Access Point

WEP – Wired Equivalent Privacy

WPA – Wi-Fi Protected Access

RFI – Radio Frequency Interference

AES – Advanced Encryption Standards

IrDA – Infrared Data Association

FHSS – Frequency Hopping Spread Spectrum

IPX/SPX – Internetwork Packet Exchange / Sequence Packet Exchange
NSA – National Security Agency
———————–

SE-Linux – Security Enhanced Linux

UPS – Uninterruptible Power Supply

RAID – Redundant Array of Inexpensive(or Independent Disks)
___________________________________________________
___________________________________________________

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

((((((((((~)))))))))) https://kmsraj51.wordpress.com/ ((((((((((~))))))))))

Top 20 Hindi Songs by A.R. Rahman !!

 

kmsraj51 की कलम से …..

anniversary-1x

Find here list of Top 20 Hindi Songs composed by A.R. Rahman,The man who set new stage for modern Indian music and is the delight of the entire nation and an icon for millions all over the world needs no introduction.

a.r.Rahman

Roja Jaaneman (Movie: Roja)
Jai Ho (Movie: Slumdog Millionaire)
Dil Se Re (Movie: Dil Se)
Kehna Hi Kya (Movie: Bombay)
Tu Hi Re (Movie: Bombay)
Awaara Bhanware (Movie: Sapnay)
Barso Re (Movie: Guru)
Chaiyya Chaiyya (Movie: Dil Se)
Soo Gaye Hain (Movie: Zubeidaa)
Ek Bagiya Mein (Movie: Sapney)
Jeeya Jale (Movie: Dil Se)
Khalbali Hai Khalbali (Movie: Rang De Basanti)
Maa Tujhe Salaam (Movie: Vande Maataram)
Mangal Mangal (Movie: Mangal Pandey)
Mayya Mayya (Movie: Guru)
Masakali (Movie: Delhi 6_
Mitwa (Movie: Lagaan)
O…Saya (Movie: Slumdog Millionaire)
Oh Hum Dum (Movie: Saathiya)
Paathshala (Movie: Rang De Basanti)

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

फर्क – Difference !!

Happy Anniversary !!
anniversary-1x

kmsraj51 की कलम से …..
9-3-14 kmsraj51

Differenceफर्क

फर्क

आदर्श होना बेहतर है,
बस शर्त ये रहे,
दोहराए जा रहे आदर्श
बल्ली की तरह हों,
भीतर और बाहर से एक जैसे,
ठोस रुप लिए,
जो आदर्श बांस की तरह
खोखले और लचर हैं,
उनकी नियति में
ठठरी की तरह बंधना ही है ।

पुरुषोत्तम होने में कुछ बुरा नहीं
मर्यादा का ख्याल रखने में कुछ ग़लत नहीं,
बुरा है, ग़लत है,
बिना सोचे समझे बस
आज्ञा में सिर हिला देना
फिर चाहे जंगल में भटकना हो
या एक औरत का पांच पुरूषों में बंटना।

शांत चित्त होने में खराबी कुछ नहीं
बस ये फर्क मालूम रहे,
किस जगह पर गाल बढ़ाना है
किस जगह पर हाथ उठाना है
क्रोध भी जीवन का सृष्टा हो सकता है
औऱ शांत मन
एक कदम के फासले पर कायर ।

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

FATHER – पिता !!

Happy Anniversary!!
anniversary-1x

kmsraj51 की कलम से …..

f s

पिता

पुराने वक्तों के हैं पिता
उन वक्तों के
जब हवा में घुल गयी थी दहशत
खिलखिलाहटें, फुसफुसाहटों में
और शोर सन्नाटे में बदल रहा था
पाक पट्टन के स्कूलों में ।

बंटवारे की चर्चा जो पहले उड़ती थी
चाय की चुस्कियों के साथ
अब हकीकत नजर आने लगी थी
तब किशोर थे पिता,
नफरत की आग घरों तक पहुँच चुकी थी
पलक झपकते ही आपसी सौहार्द का पुल
विघटन की खाई में बदल गया था ।

पुश्तों से साथ रहते आये गाँव तथा परिवार
ढह गए थे ऐसे जैसे कोई दरख्त जड़ों सहित
उखाड़ दिया गया हो,
जलते हुए मकान, संगीनों की नोक पर
टंगे बच्चे, बेपर्दा की जा रहीं औरतें ।

रातोंरात भागना पड़ा था उन्हें
औरतों व बच्चों को मध्य में कर
घेर कर चारों ओर से वृद्ध, जवान पुरुष
बढ़ते गए मीलों की यात्रा कर
कारवां बड़ा होता गया जब जुटते गए गाँव के गाँव..

….और फिर दिखायी पड़ी भारत की सीमा
जो था अपना पराया हो गया देखते-देखते
खून की गंध थी हवा में यहाँ भी
दिलों में खौफ, पर जीवन अपनी कीमत मांग रहा था,
पेट में भूख तब भी लगती थी
…कहते-कहते लौट जाते हैं (अब वृद्ध हो चले पिता)
पुराने वक्तों में… कि सड़कों के किनारे मूंगफली
बेचते रहे, गर्म पुराने कपड़ों की लगाई दुकान
और कम्पाउडरी भी की
फिर पा गए जब तहसील में एक छोटी सी नौकरी,
हाईस्कूल की परीक्षा के लिये
सड़क के लैम्प के नीचे की पढ़ाई
पुरानी मांगी हुई किताबों से
और बताते हुए बढ़ जाती है आँखों की चमक
पास हुए प्रथम श्रेणी में,
भारत सरकार के डाकविभाग में बने बाबू
और सीढ़ियां दर सीढ़ियां चढ़ते
जब सेवानिवृत्त हुए तो सक्षम थे
एक आरामदेह बुढ़ापे की गुजरबसर में,
पर रह रह कर कलेजे में कोई टीस उभर आती है
जब याद आ जाती है कोई बीमार बच्ची
जिसे छोड़ आये थे रास्ते में उसके मातापिता,
एक बूढी औरत जो दम तोड़ गयी थी पानी के बिना ।
दिल में कैद हैं आज भी वह चीखोपुकार
वह बेबसी भरे हालात
आदमी की बेवकूफी की इससे बड़ी मिसाल क्या होगी ।
पिता ऊपर से संतुष्ट नजर आते हैं
पर भीतर सवाल अब भी खड़े हैं !
__________________________

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

Wi-Fi and Mobile Broadband !!

Happy Anniversary!
anniversary-1x09-March-2013 to 09-March-2014
https://kmsraj51.wordpress.com/


kmsraj51 की कलम से …..
PEN KMSRAJ51-PEN


Wi-Fi and Mobile Broadband – Component Guideline
Keep your laptop connected with the right wireless options
TECHNOLOGY

For a while now, Wi-Fi has been an inalienable right for notebook owners. But that’s not the end of the story when it comes to wireless connectivity. Aside from choosing between different standards of Wi-Fi, many users purchase mobile broadband subscriptions to get Internet access from the road. Read on to figure out just how much connectivity you need.

=> Types of Wi-Fi

Whether you buy a 10-inch net book or an 18-inch desktop replacement, your laptop will definitely have Wi-Fi. This means that, provided you’re located within range of a router (and know the password, if there is one), you can get online without the aid of an Ethernet cable.

The two main Wi-Fi standards today are 802.11n (wireless-N) and the older 802.11g (wireless-G). Many budget models still offer 802.11g as the base configuration option, but there are other low-cost notebooks, particularly preconfigured models designed for stores such as Best Buy, that have wireless-N.

802.11g supports speeds up to 54 Mbps. This is fine for everyday Internet use, such as checking e-mail and surfing the Web, because this is much faster than even the fastest broadband connection.

802.11n supports speeds over 100 Mbps. Unlike 802.11g, which runs only on the 2.4-GHz spectrum, 802.11n can run on either the 2.4-GHz or 5.0-GHz spectrum. This means it can work with dual-band routers, which reserve low-intensity tasks (such as e-mail) for the 2.4-GHz band, and higher-intensity ones (such as streaming HD video) for the 5.0-GHz band.

If your needs are basic and you want to cut every corner, you’ll likely be satisfied with 802.11g. But since 802.11n only costs around $25 more, you might want to consider upgrading to future-proof your notebook. If you’re interested in wirelessly streaming video, particularly high-def content, between devices in your home, 802.11n is a must.

Q. Do You Need Mobile Broadband?

Ans =>
Mobile broadband allows you to get online anywhere; it doesn’t matter if you happen to be near a router. If this sounds like the kind of Internet connection you’re used to getting on your smart phone, well, there’s a reason for that. Mobile broadband subscriptions are sold through the same carriers—AT&T, Sprint, Verizon Wireless, and, lately, T-Mobile—that operate cell phones (more later on the technology behind mobile broadband).
If you frequently need Internet connectivity outside of your home or office, you will have difficulty relying on your Wi-Fi card alone; free public Wi-Fi can be hard to come by, and you can’t always find a paid hotspot, either. On the other hand, mobile broadband connections are not as fast as Wi-Fi, and monthly subscription fees (typically $60 for 5GB per month) can be steep. So get mobile broadband only if you really need it.

– Choosing the Right Mobile Broadband Service

There are two major technologies propelling mobile broadband: Evolution Data-Optimized (EV-DO) and High Speed Packet Access (HSPA). Sprint and Verizon Wireless employ EV-DO; AT&T and T-Mobile, HSPA. Although the end user won’t notice much (if any) difference in upload and download speeds, they have different hardware structures, so an adapter made for one won’t work with another. No matter which provider you choose, you should expect speeds of 600 kbps to 1 Mbps for downloading and 500 to 700 Kbps for uploading.
The primary factors you should consider when choosing a mobile broadband provider are coverage, price, and contract terms. Look at coverage maps from the providers you’re considering and see if they match up with areas to which you frequently travel. To avoid overage charges, get a data plan that provides at least 5GB per month of transfer.
If you want the freedom to easily change between carriers, a relatively new technology called Gobi allows users the option of using either EV-DO- or HSPA-enabled mobile broadband cards. You’re most likely to find this offered in business notebooks (HP, for example, offers it in many of its SMB laptops). That’s good news for businesses that don’t want to commit to a carrier or piece of hardware for any specified length of time.

– Mobile Broadband Cards and Adapters

When you purchase mobile broadband, you need to decide what type of adapter you want: integrated (internal) or external. Each has its advantages.
Internal cards, which need to be installed by the manufacturer when the notebook is built, are convenient because they don’t stick out or use up one of your system’s ports. However, getting an internal card is more expensive than an external one, most notebooks aren’t available with integrated broadband cards, and if you get one you are locked into using one service provider on that notebook.
If you buy an external adapter, you can use it on any notebook in the world. You even have the liberty of unplugging it, and installing the software on another laptop—a useful scenario if you have primary and secondary PCs, or if there is more than one notebook in your household.
External adapters are available in ExpressCard or USB flash drive form factors. ExpressCard adapters don’t stick out as much, but many notebooks don’t support them, so USB is usually a better option.

Q. What is Mobile WiMAX and Do You Need it?

Ans =>
Whereas most mobile broadband options today run on the same 3G network as phones, the next generation of mobile broadband, called Mobile WiMAX, is already being rolled out. WiMAX, often dubbed 4G for short, boasts faster speeds than 3G: 3 to 6 Mbps, to be exact.
Right now, the service is only available in select cities, such as Baltimore and Las Vegas. But if you’re in those areas, you can buy a 2GB monthly pass for just $35, a significantly lower price than what you’d pay for a 3G card with a 5GB monthly allowance. Moreover, the penalty for exceeding that bandwidth cap is $10 per gigabyte, whereas it would be more than $50 if you went overboard with a 3G card. In our hands-on testing, we’ve been impressed with the swiftness of downloads, although not necessarily the upload speeds. For now, though, unless you live in a WiMAX-enabled city, it’s not an option.

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

कुछ करके दिखायो !!


kmsraj51 की कलम से …..
ladali

– कुछ करके दिखायो –

“कुछ करके दिखायो” ……..”कुछ करके दिखायो” ,
ये जीवन मिला है……..इसमें नए सपने सजायो ।

हम आए हैं यहाँ ……न अपनी मर्ज़ी से ,
फिर कैसे चले जाएँ ……..खुद की खुदगर्जी से ?

बहुत कुछ है देने को ……इस समाज को ,
बहुत कुछ है लेने को ……इस समाज से ।

इस मनुष्य योनि में ……अपनी पहचान बनायो ,
जो भी मिला है …..उसे औरों के संग बाँटते जायो ।

पैदा होने पर ……माँ-बाप सोचा करते हैं ,
हाँ यही करेगा ……..हमारा नाम रोशन ।

पीड़ी दर पीड़ी चलेगी …..ये कहानी ,
कि करके दिखायो तुम भी …….अपने खून को गरम ।

रोज़ कहते हैं सभी ………कि दम है तो सामने आयो ,
ताकत से नहीं ……अपने दिमाग से …..कुछ खेल जाओ ।

आज जो मेहनत करेगा ………वो कल मीठा फल चखेगा ,
जो लड़खड़ा गया पहले कदम पर …….वो उम्र भर फिर चल न सकेगा ।

हर पल-पल में छिपी है ……एक ज्ञान की लम्बी दास्तां ,
उस दास्तां में डूबते जाओ ……..और तय करो अपना रास्ता ।

बहुत से विद्यार्थी हार जाते हैं …..चलकर कुछ कदम ,
टूट जाते हैं वो अक्सर ……कहते हैं हममे नहीं है दम ।

हौसले अपने हो बुलंद …..तो हार में भी जीत है ,
ज़ज्बा है कुछ करने का ……तो हर घड़ी में प्रीत है ।

रोज़ इन शब्दों को सुनकर …..मन अब भरने सा लगा है ,
“कुछ करके दिखायो” ऐसे कटाक्षों से …….ये जिस्म भी अब डरने लगा है ।

इल्तजा इतनी है समाज से ……..कि हमें भी सोचने का ….एक मौक़ा तो दो ,
हाँ दिखाएँगे करके हम भी कुछ …..थोडा सब्र करना तुम भी सीख लो ।

करके हम भी दिखाएँगे …..इस युग में चमत्कार ,
मत कहो “कुछ करके दिखायो “…….नहीं हैं हम इतने भी बेकार ॥

A Message To All-

मत करो हतोत्साहित अपने शब्दों से ……आने वाली नयी पीढ़ी को ,
वो भी करेंगे कुछ ऐसा एक दिन…. जिसे देखेगा ज़माना ….पकड़ती हुई नयी सीढ़ी को ॥

—————- —– kmsraj51 —– —————


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

मत करो हतोत्साहित अपने शब्दों से -A Message To All- !!


kmsraj51 की कलम से …..
PEN KMSRAJ51-PEN



“मत करो हतोत्साहित अपने शब्दों से ……आने वाली नयी पीढ़ी को ,
वो भी करेंगे कुछ ऐसा एक दिन…. जिसे देखेगा ज़माना ….पकड़ती हुई नयी सीढ़ी को ॥”


future

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!


5-kms0005

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

हम भाग्यशाली है ~ We are lucky !!


kmsraj51 की कलम से …..
luck

^^ हम भाग्यशाली है ^^

जीवन एक सफर हैं
जहां हैं पहाड़ भी नदी नाले भी
जहां फुलवारी भी है जंगल भी
जहां खुशी भी है गम भी
जहां दुख भी है सुख भी
जहां सूरज रोज उगता है
जंहा चंद्रमा भी उगता हैं
जहां हम कठपुतली है
क्या स्वार्थ था भगवान् का
क्या स्वार्थ था मम्मी का
क्या स्वार्थ था पापा का
जो हमें संसार में लाये
हमें पढ़ाने लिखाने में
कोई कसर नहीं छोड़ी
क्या स्वार्थ था भारत माँ का
जो हमें इस पावन मिटटी पर
जन्म लेने का मौक़ा दिया
जंहा मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम ने
जन्म लेकर इस मिटटी को
सदा सदा के पावन कर गए
आगे हमें देखना जरुरी हैं
क्यों मैं निस्वार्थ हो नहीं सकता
फिर सोचेंगे कौन ज्यादा
या कौन कम स्वार्थी हैं !!!!!
——– प्रेमचंद मुरारका

I am grateful to Mr. “प्रेमचंद मुरारका”,for sharing this inspirational poetry.


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!


5-kms0005


——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————