ये कैसा प्यार।

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMSRAJ51-4

ϒ ये कैसा प्यार। ϒ

आज स्कूल, कालेजो में बहुत अच्छा प्यार देखने को मिल रहा है। लड़का-लड़की कॉलेज के पास खोके के दुकान में सिगरेट, दारू और न जाने कौन सी नशीली पदार्थ का सेवन करके अपना प्यार प्रदर्शित कर रहे है। कॉलेज के घास के मैदानों में चुम्बन का सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन।रोज गले य हाथ मिलाओ तो प्यार। बताने को बहुत कुछ है पर आगे बढ़ा तो शब्द कम पढ़ेंगे।

सारांश में कहूँ तो कुछ तत्व ने प्यार की परिभाषा को ही कलंकित करने का काम किया है। जो फूहड़पन, अभद्रता है उसे प्यार समझ बैठे है। ऐसे काफी प्रेमी जोड़े से जब मैंने सवाल किया कि क्या आप उससे शादी करेंगे तो जवाब हाँ, ना कुछ नही कह सकते का था। जिन्हें अपने प्यार पे ही भरोसा नही तो काहे का प्यार।

सिर्फ मानसिक-शारीरिक संतुष्टि और अकेलेपन मिटाने के लिए जिसको प्यार का नाम दिया जा रहा है उसको समाज में कुछ और ही कहते है। हिम्मत हो तो किसी सभ्य व्यक्ति से पूछ लीजिये। अच्छा जवाब मिलेगा।

आज प्यार व्हाट्स से शुरू होता है तो ब्लाक पर जाकर खत्म होता है। प्यार विश्वास और सम्मान है न कि अपना स्वार्थ सिद्ध न होने पर उठाये गये ऐसे कृत्य जो प्यार को शर्मसार और उस को करने से भयभीत कर दे। आज प्यार न मिलने पर कोई हत्या, बलात्कार, आत्महत्या और न जाने क्या क्या अपराध करने लगते है।

नशा, चोर सब गुनाहों को करने से पीछे नही हटते। मै समझता हूँ प्यार को परिभाषित नही कर सकते बस महसूस कर सकते है। प्यार होना कोई बुरी बात नही है और ये किसी भी व्यक्ति को हो सकता है जो दिलदार हो जो खुले दिल का हो। अरे जानवर को भी प्यार होता है तो इन्सान को न हो ये अपने आप में अजीब बात होगी। पर प्यार को निभाना और उसे खत्म करना या उसे मंजिल देना ये अपने हाथ में होता है।

इसीलिए अपने प्यार को या तो गति तभी दीजिये जब आपको लगे आपका प्यार सच्चा, विश्वसनीय है क्योंकि मुखौटे पहने व्यक्ति प्यार का ढोंग करने वाले आज काफी है जो अपने आप को मानसिक रूप से संतुष्ट करने के लिए भी ये गलतियाँ कर देते है! और कृपया एक बात जरुर याद रखिये! किसी लड़के और लड़की के चक्कर में अपने जीवन को दांव पे मत लगाना, क्योंकि आपके जीवन से करोड़ो लोगो की आशाये जुडी है और उनका आपके प्रति प्यार भी।

अगर आप ठुकराए गये है तो नाराज मत होइए। अपने अंदर कमी तलाशिये और उस कमी को खत्म कीजिये! न कि खुद को फलाना लड़के-लड़की द्वारा ठुकराए जाने पर खुद को दिन-हिन् समझिये।

एक चमकीले पत्थर को सब्जी वाला तोलने के लिए देखता है, तो एक व्यापारी उसे कागज पर रखने वाला मात्र एक पत्थर! और जब वही चमकीला पत्थर एक जेवरात की दुकान में पहुँचता है तो उसकी कीमत करोड़ो में हो जाती है।

कमी आप अपने अंदर तलाशने इसीलिए कह रहा हूँ क्योंकि उससे आप में सकारात्मक बदलाव आयेंगे जिससे आपका जीवन और निखरेगा और भविष्य संवरेगा। आप उस चमकिले पत्थर की तरह ही है जो शायद एक सब्जी वाले के पास था लेकिन उसकी असली कीमत जेवरात के दुकान पे ही उसको पता चली। सोचिये अगर वो पत्थर जेवरात की दुकान पे न गया होता तो क्या उसको अपनी कीमत पता चलती !! नही न ??

इसीलिए यदि आप धोखे या ठुकराए जाने का शिकार है तो निराश न होए और अकेला बिलकुल न रहे। दोस्तों के संग रहे, भाई-बहन के साथ रहे। अपने साथ जो हुआ उसको न सोचे और जो कार्य आपको सबसे ज्यादा भाता है वो करे। अपने परिवार को या किसी विश्वसनीय को सब कुछ बता दे और जी भर कर रो ले और अगले दिन से अपने जीवन को नये सिरे से शुरू करे।

ये मत भूले कि आप भी वो चमकिले पत्थर की तरह है। बस दृष्टिकोण का फर्क है कोई आपको किसी नजर से देखता है तो कोई किसी नजर से। आप ये संकल्प ले कि अतीत में जो हुआ उसे वर्तमान में कभी आने नही दोगे। एक हादसे की तरह इसे भूल जाये और जीवन में बहुत कुछ है जो आपको पाना है।

अपने जीवन को देखे कि आपके जीवन से कितने लोग जुड़े हुए है और कितने लोगो की आशाये है। प्यार दो व्यक्तियों के विचारधारा के मिलने का एक प्रतीक है। उस विचारधारा को आगे बढाये और अपने प्यार की लहरों से समाज के असहाय वर्गो की नौका पार कराये।

हमारा जीवन सिर्फ खाना-खाने, स्कूल, कॉलेज, नौकरी, मस्ती के लिए नही बल्कि सामाजिक विसंगतियो को खत्म करने ! और कई तरह के जिम्मेदारी की पूर्ति हेतु हुआ है। उसे समझिये और उस जिम्मेदारी को पूरा करने हेतु तत्पर रहिये ! ऐसे प्यार का त्याग करना सर्वदा उचित है जो आपके विचार-धारा के विपरीत, आपके सिद्धांतो के विपरीत है इसीलिए शारीरक प्यास को तिलांजलि देते हुए अपने जिम्मेदारी भरे जीवन के महत्व को समझे।

वैसे भी मकान बनने से ज्यादा समय महल बनने में लगता है इसीलिए धैर्य रखिये और सकारात्मक सोच रखिये। अगर आप प्यारे व्यक्ति है सच्चे व्यक्ति है और सबका भला सोचते है तो आपको प्यार समय आने पर अवश्य मिलेगा बस अतीत की घटनाओ का वर्तमान क्रियाकलापों पर किसी भी तरह प्रभाव न पड़ने दे।

क्योंकि जिस तरह प्यार और सम्मान किसी तारिक विशेष की मोहताज नही उसी प्रकार समय किसी व्यक्ति की मोहताज नहीं। समय सबको बराबर मिला है चाहे वो पप्पू या कजरी ही क्यों न हो।

© सारांश सागर जी – नोएडा, उत्तर प्रदेश ®

हम दिल से आभारी हैं सारांश सागर जी के प्रेरणादायक हिन्दी Article ये कैसा प्यार साझा करने के लिए। हम आपके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं।

CYMT-KMSRAJ51

पढ़ेंविमल गांधी जी कि शिक्षाप्रद कविताओं का विशाल संग्रह।

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Editor in Chief, Founder & CEO
of,,  https://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान और ध्यान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– © Best of Luck ® ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

* अपनी आदतों को कैसे बदलें।

निश्चित सफलता के २१ सूत्र।

क्या करें – क्या ना करें।

∗ जीवन परिवर्तक 51 सकारात्मक Quotes of KMSRAJ51

* विचारों का स्तर श्रेष्ठ व पवित्र हो।

* अच्छी आदतें कैसे डालें।

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

~KMSRAJ51

 

 

 

Am I Creating Negative Karma – Guilt As An Indicator

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMSRAJ51-4

Am I Creating Negative Karma

Guilt As An Indicator – Part 1

At the heart of our consciousness, we have a conscience. Our conscience is essentially our basic awareness of truth. From a spiritual point of view, the truth of who we are as spiritual beings is core and eternal truth. If we consider ourselves to be anything other than soul or spirit then we will be thinking and acting against our conscience, against our truth, which is like going against the essence of spirit. We will feel something is not quite right. If one of the pistons in our car engine is out of sync with the others, the engine will sound slightly different from normal. We immediately have it fixed, because we know that if it continues it may destroy the engine. If we do something that is out of sync with the truth, the voice of our conscience speaks to us. But we tend to ignore or suppress it, especially if we are having a seemingly pleasurable experience – we then create the sanskars or habit of ignoring our own conscience. As a result we keep repeating the negative karma and the sanskars of the negativekarma are deepened, further ignoring the voice of our conscience. It is a vicious cycle, to come out of which is extremely difficult.

© Message ®

To be free from past is to take the gifts of the present.

Thought to Ponder: When my mind is continuously dwelling on the past, I miss out on the opportunities and gifts of the present. I need to remember that if my past has helped in shaping up the present, then this moment would be the past of tomorrow. So, I need to se the present moment well, so that I can make both my present and future beautiful.

Point to Practice: Today I will do something that will make me happy. It could be a simple thing like resuming with a hobby or saying hi to an old friend or even spending time with nature. This will enable me to spend time fruitfully with the present moment. By making it a practice to use of all these moments in the right way, I will be enriching myself each day.

“Am I Creating Negative Karma

Guilt As An Indicator – Part 2

An angerholic (one who gets angry repeatedly) hears the internal voice telling him to stop creating mental unrest, harming his body, hurting others and being addicted to the habit and the hormones that get created inside the body due to the habit, but then ignores the voice or drowns it out. This only adds to the inner disharmony (peacelessness) already present and both self-respect and self-esteem are slowly reduced. Any action we do which springs from forgetfulness (body-consciousness) will trigger this inner, spiritual discomfort. Following the action, we might feel guilty for doing something we internally knew was wrong. Any form of guilt except the one that is caused by another person i.e. except the case when guilt is caused inside you because another person is emotionally blackmailing you, is the voice of our conscience calling to say that we are acting against the essence, something is out of sync. Our level of guilt acts like a thermometer (an indicator). It shows us when and to what extent we are not aligned to truth. If we learn to pay attention, listen closely to this inner discomfort and the message it conveys, we will also hear why and how to make corrections, so that we no longer create negative karma.

© Message ®

To keep the mind calm and clear is to find solutions to problems.

Thought to Ponder: The more my mind is calm and peaceful, the more there is a chance to find solutions. But, when faced with a problem, our mind which is like a plain paper is filled with unnecessary things, so much so that we cannot even see the solution that is right in front of us.

Point to Practice: Today I will be silent when faced with a problem. I will calm my mind too, before I even attempt to think of a solution for the problem. This will help me find solutions quickly. Also there would be accuracy in the decisions that I take.

Watch Peace of Mind TV on following DTH
TATA(Sky # 192 | Airtel Digital TV # 686 | Videocon d2h # 497 | Reliance BigTV # 171 |

online www.pmtv.in

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– © Best of Luck ® ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

निश्चित सफलता के २१ सूत्र।

∗ जीवन परिवर्तक 51 सकारात्मक Quotes of KMSRAJ51

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

CYMT-100-10 WORDS KMS

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

~KMSRAJ51

 

A Beautiful Vision Of Love

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMSRAJ51-4

A Beautiful Vision Of Love – Part 1

Loving people for their specialties is something we enjoy doing the whole day. There are many different people whom we meet and love and everyone has atleast one specialty which is different from the rest. This could be a quality or a particular skill of the personality like e.g. a way of talking, a way of presenting oneself when coming into contact with others or even a way of dressing up all of which are unique to the person. Also, some people possess skills like knowing a particular art or even being intelligent or good at a particular sport. Some people are just very good human beings and being with them gives you a feeling of positivity and if you meet them just for once in the morning, you will feel they have made your day. Some people just have a good way of carrying themselves in public and their whole personality has an aura which attracts people around them. Have you seen people who are good at say singing or painting or playing a musical instrument or some are gifted with a good voice or some have become big names in the corporate sector with their managerial skills and forming companies at a very young age, which are providing services to millions of people and giving people happiness in different ways. Everyone likes these people for what they have been gifted and there is no doubt that they have performed some good actions in their past lives or births, because of which they have got these specialties in this birth.

Do you know that even God is incognito filling many of us with specialties which are helping us succeed in our personal as well as professional lives as well as any other field of life in which we are involved and are aiming for success. So, realizing that we are all special in some way or the other, looking at everyone with the spectacles of specialties is a way of tying the knot of spiritual brotherhood with everyone and increasing a love based on purity in each relationship.

© Message ®

Repetition of positive thoughts lead to powerful thoughts.

Thought to Ponder: When ordinary and waste thoughts are repeated, they can become harmful and negative thoughts. On the other hand, when positive thoughts are repeated, they become powerful thoughts. When I take a simple positive thought and practice with it, I find myself becoming more and more powerful.

Point to Practice: Today I will take a simple positive thought and practice with it. This simple thought could be “I am happy today” or “I appreciate the people in my life”. This will help me reinforce this thought and make it powerful. Such powerful thoughts are available with me, specially at a time when things are not so right.

A Beautiful Vision Of Love – Part 2

Whenever you meet someone for the first time, make it a point to see atleast one characteristic in the person which you think is unique and different from others. Then begin to see that person regularly through the vision of this specialty which we commonly call perception. This type of vision will travel to the other person through your pure energy of goodwill and the other person will respond to this type of attitude with a positive vision themselves. Never say this person has no specialty or this person is ordinary because everyone is gifted with some specialty which sometimes we do not notice or do not realize because we tend to look at the weaknesses instead. This is our natural habit whereby we very easily slip into the habit of first seeing the weakness and then seeing the specialty in any particular person.

Have you ever wondered how does God look at each one of us? Does He see our weaknesses first and then our strengths? No, He will always look for the good in each one of us and will give us a lot of love because we are special and also see us with a vision of love. God is an Ocean of Mercy because of which He forgives us if we have made any mistake and instead will remember what is special inside us and praise us. Why is God able to forget the mistake or the weakness and not us? Why is He able to move His vision from the negative to the positive so easily and not us? We tend to move our vision from the positive to the negative as soon as someone says or does something negative to us. Before we decide what is right and what is wrong, we are judgmental and label the person based on the negative we have come across in them. This is because of a vision based on physical love for others which sees weaknesses as well as strengths, whereas God has a vision of spiritual love which sees the positive and is able to avoid or not see the negative.

© Message ®

To order whilst being seated on the seat is to ensure obedience.

Thought to Ponder: Before I expect obedience from others, I need to check if my own mind and sense organs are obedient. For this, I need to be seated on the seat of my own self-respect (of the qualities I have). Thus seated, like a king, when I order, I find that orders are obeyed.

Point to Practice: Today I will practice a point of self-respect. I will recognise and appreciate one quality in myself. I will remind myself of this quality, from time to time, through out the day. If I find my mind wandering or my sense organs disobedient, I will give orders with the same consciousness of self-respect. Then, I will find positive results.

A Beautiful Vision Of Love – Part 3

A beautiful vision of love is for me to practice the whole day with everyone I meet. Loving each one with a pure attitude and consciousness is a way of experiencing this vision. When you look at each one inculcate the habit of seeing the spiritual being, the soul, at the centre of the forehead and not the physical form, which will remind you of the many weaknesses that the other person has. Remember looking at the body reminds you of many negative karmas or actions and other negative events related to the other person. So be aware of the other person’s physical personality and looks and the way they dress up when you come into contact with the other person but remember that the other person is a being of spiritual light or a soul first and a physical form later. Look at the beauty of the soul first and then come into contact with the other person as a human costume or body. This does not mean you are not aware of the other person’s nature, their specialties and their skills of any type and how they look and what role they play with the physical body and also what their educational qualification is. Be aware of all the physical characteristics and appreciate them a lot also. But don’t forget all that they are on a physical level is because they are a spiritual being or soul which has performed good or bad actions in their previous lives because of which they have got everything on a physical level, whether positive or negative.

A pure vision of love means not getting attracted to the physical form of the other person, which is God’s vision. The ones who are completely in love with God find it very easy to have such a vision, where there is no lust in their eyes when they come in contact with the opposite gender. Such a vision is the original vision of devi devtas or deities who are none other than our original births as we came into this world from the soul world, the same devi devtas or deities who are liked so much in the world and given a status as high as God.

© Message ®

To be disciplined is to get the cooperation of all.

Thought to Ponder: When I am disciplined and use my time and energy well towards an aim, I find that people cooperate too. If I am not consistently disciplined, people too move me away from my aim. If I want cooperation from others for anything, I need to first focus on setting myself on track in the right way.

Point to Practice: Today I will check and see if I am using all my resources in the right way. I will first set my routine right. I will ensure that I am doing all that I have to do, in a disciplined way. This will help me get the cooperation of others too, as they would have respect for me and my routine.

Watch Peace of Mind TV on following DTH
TATA(Sky # 192 | Airtel Digital TV # 686 | Videocon d2h # 497 | Reliance BigTV # 171 |

online www.pmtv.in

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– © Best of Luck ® ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

निश्चित सफलता के २१ सूत्र।

∗ जीवन परिवर्तक 51 सकारात्मक Quotes of KMSRAJ51

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

CYMT-100-10 WORDS KMS

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

~KMSRAJ51

 

The Thought Destiny Cycle

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMT-KMSRAJ51-4

The Thought Destiny Cycle

The process by which we create our own destiny is quite easy to see in theory; however it requires some checking to see how it matches the reality of our practical lives. Here is the process in brief:

secrets_destiny-kmsraj51• As our intentions, so will be our thoughts.
• As our thoughts, so will be our feelings.
• As our feelings, so will be our attitudes.
• As our attitudes, so will be our actions.
• As our actions, so will be our habits.
• As our habits, so will be our personality.

As our personality in all our relationships on our journey through life, so will be our destiny. So watch your thoughts! Be aware of your intentions!

Our intentions are based on our beliefs about who we are, where we are and why we are here. If we believe we are the physical form, our belief will we be that we need to survive as long as possible. This leads to the intention to get what we think we need before others, which leads to competition, which leads to feelings of fear. Our destiny gets shaped accordingly. When you know you are the non-physical and immortal (which is neither created nor can be destroyed) energy, a soul, then survival is no longer an issue and your intention is one to include, connect and co-operate with and enlighten others. The service of others at a spiritual level becomes the highest intention in action. It is fully free from fear and can be seen as an act of love. This is why competition and authentic spirituality can never be found together.

© Message ®

Every change is a means to take one forward for those who are positive.

Thought to Ponder: For the one who is positive, change brings progress. Otherwise, most changes are seen as threats to our well-being. So, for everything that happens in my life, I need to see what positive outcome is inherent in it. This will help me be open to change in the right way.

Point to Practice: Today I will make a list of major changes in my life in the past 15 years or so. I will see what I have learnt from it. This will help me appreciate the fact that there is some beautiful outcome for everything that has happened.

Watch Peace of Mind TV on following DTH
TATA(Sky # 192 | Airtel Digital TV # 686 | Videocon d2h # 497 | Reliance BigTV # 171 |

online www.pmtv.in

Please Share your comment`s.

© आप सभी का प्रिय दोस्त ®

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

जैसे शरीर के लिए भोजन जरूरी है वैसे ही मस्तिष्क के लिए भी सकारात्मक ज्ञान रुपी भोजन जरूरी हैं। ~ कृष्ण मोहन सिंह(KMS)

 ~Kmsraj51

———– © Best of Luck ® ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

निश्चित सफलता के २१ सूत्र।

∗ जीवन परिवर्तक 51 सकारात्मक Quotes of KMSRAJ51

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

kmsraj51- C Y M T

“सफलता का सबसे बड़ा सूत्र”(KMSRAJ51)

“स्वयं से वार्तालाप(बातचीत) करके जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसा करके आप अपने भीतर छिपी बुराईयाें(Weakness) काे पहचानते है, और स्वयं काे अच्छा बनने के लिए प्रोत्सािहत करते हैं।”

In English

Amazing changes the conversation yourself can be brought tolife by. By doing this you Recognize hidden within the buraiyaensolar radiation, and encourage good solar radiation to becomethemselves.

CYMT-100-10 WORDS KMS

 ~KMSRAJ51 (“तू ना हो निराश कभी मन से” किताब से)

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

~KMSRAJ51

 

प्यार की हकीकत-लव टिप्स

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

प्यार ऐसा ही होता है जब हमारे पास होता है तो हमें उसकी कद्र नहीं होती और जब यह दूर चला जाता है तो आंखों से पानी रुकने का नाम नहीं लेते. सही प्यार को सही समय पर पहचान पाना बेहद मुश्किल होता है. जब हमारा प्यार हमारी आंखो के आगे होता है तो हम उसे नजरअंदाज कर देते हैं या फिर उससे भी अच्छे की तलाश में आगे बड़ जाते हैं. पर जब आगे जाकर हमें उसकी तरह कोई नहीं मिलता तो फिर हम वापस वहीं आते हैं लेकिन तब तक उसको कोई और चुन लेता है.

आज कल हर रिश्ता बड़ा अस्थाई हो गया है. यहां कोई किसी का इंतजार नहीं करता. मान लीजिए अभी अभी आपने कॉलेज में एडमीशन लिया और आपके दिल को लड़की पसंद आ गई पर आपने सोचा कि चलो पहले एक महीने किसी दूसरी लड़की को देख लेते हैं जो इससे भी अच्छी हो. और इस तरह जब आप एक महीने बाद इस तर्क पर पहुंचते हैं कि वही लड़की आपके लिए परफेक्ट थी तो तब तक वह लड़की किसी और के साथ प्रेम गीत गाती मिलेगी.

 

प्रिय मित्रों,

मैं तुम्हें एक कहानी सुनाता हूँ॥

love-life-kmsraj51

एक लड़की ने एक बुजुर्ग से पूछा: प्यार की हकीकत क्या है?

 बुजुर्ग ने कहा:  जाओ बाग में सब से खुबसूरत फूल लेकर आओ.

लड़की एक दिन बाद वापस आई और बोली: मैं फूल देखती रही, एक फूल सबसे खुबसूरत था मगर मैं उस से बेहतर की तलाश में चल पड़ी मगर कोई प्यारा नहीं लगा. जब लौट कर आई तो कोई उस फूल को तोड़ कर ले गया था.

बुजुर्ग: यही प्यार की हकीकत है. जो सामने हो उसकी कद्र नहीं की जाती और जप वापिस लौटा जाता है वो किसी और का हो जाता है.

खैर यह तो सिर्फ एक कहानी थी जिसका सार सिर्फ इतना है दोस्तों की प्यार बड़ा अनमोल है. इसकी कद्र करो. प्यार की कहानी दिल की दिवार पर पत्थर की तरह होनी चाहिए जिसपर किसी दूसरे का नाम लिखने पर आपके दिल को बैतहा दर्द हो.

हालांकि आज के समय में ऐसा कर पाना बहुत मुश्किल है लेकिन कभी प्यार को प्यार से बढकर ट्रीट करके देखो, अच्छा लगेगा. एक प्रेमी को अगर आप अपना सबसे अच्छा दोस्त बनाएंगे तो आपकी जिंदगी सच में प्यार के रंग में डुब जाएगी.

Post share by:: Hitesh Narendra Singh

hitesh-KMSRAJ51

 I am grateful to Mr. Hitesh Narendra Singh, for sharing real love tips article in Hindi.

 Contact ID: hiteshsingh001@gmail.com

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life   Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

कुछ भी आप के लिए संभव है ॥

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@2014-all rights reserve under kmsraj51.

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

एक लड़की क्या चाहती है!!

kmsraj51 की कलम से…..

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

 

professional-girl

अकसर हर आशिक के मन में एक ही सवाल उठता है कि वह जिस लड़की को चाहता है वह क्या चाहती है? यह सवाल दुनिया के हर आशिक को परेशानी में डाले रखता है. लेकिन अकसर हम यह भूल जाते हैं कि लड़कियां बेहद सॉफ्ट दिल की होती हैं जो आपसे बस थोड़-सा प्यार और थोड़ी केयर चाहती हैं बस.

एक लड़की क्या चाहती है यह जानने के लिए आपको यह जानना जरूरी है कि आखिर अपने मां-बाप की प्यारी-डालडी परी आखिर इस प्रेम रोग के चक्कर में पड़ती क्यूं है? दरअसल माना यह जाता है कि लड़कियां प्रेम रोग में ज्यादातर आकर्षण या फिर अपने मां-पिता के घेरे से बाहर निकलने के लिए करती हैं. लड़कियों का मन एक नदी की भांति बहना चाहता है वह माता-पिता के बंधनों को मानने के लिए विवश नही होना चाहता है, इसीलिए कई बार बाहरी आकर्षण से तो कभी आजकल की फिल्मों को देख कर अपने घर की परी भी उस भंवरे के पीछे पागल हो जाती है जिसकी वेल्यू उस लड़की से बेहद कम हो.

अब मुख्य बात: आखिर एक लड़की क्या चाहती है?

दोस्त चाहिए प्यार नहीं: हर लड़की चाहती है कि उसका प्रेमी उसका ध्यान रखे. अगर आप ऊपर-ऊपर से समझे तो पाएंगे कि एक लड़की दरअसल उसे ही अपना सच्चा प्रेमा मानती हैं जिसे वह दोस्त बना सके. इसलिए किसी लड़की का प्यार बनने से पहले उसके लिए एक अच्छा दोस्त बनने की कोशिश करें. लडकियां बेहद भावुक होती हैं और कई बातें वह अपनी सहेलियों को नहीं कह पाती. ऐसी बातें कहने के लिए वह ऐसे शख्स की तलाश में होती हैं जो उनका विश्वसनीय हो सके. तो अगली बार जिस लडकी को आप चाहते हैं उसके सामने एक प्रेमी की तरह नहीं एक दोस्त की तरह पेश आएं.

 

उसकी परेशानी सिर्फ सुने नहीं समझे: एक लड़की चाहती है कि उसका दोस्त उसकी परेशानी को मात्र सुनें ही नही बल्कि उसे समझने की कोशिश भी करे.

 उसकी हां में हां मिलाए: एक लड़की को एक ऐसा साथी चाहिए होता है जिसपर वह विश्वास तो कर ही सके साथ ही वह दोस्त उसकी हर बात माने.

 और लड़कियां यह भी चाहती हैं:

  • लड़कियां चाहती हैं कि लड़के उनके नखरे उठाएं, उनके आगे-पीछे घूमें, उन्हें भाव दें, उनकी हर बात मानें.
  • प्यार, तारीफ और गिफ्ट्स.

Article-Source: 

JagranJunction Blogs

 

Note::-

यदि आपके पास Hindi या English में कोई  article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

pink-sky-kmsraj51-10-Words for a success ful life

Picture Quotes By- “तू न हो निराश कभी मन से” किताब से

Book-Red-kmsraj51

100 शब्द  या  10 शब्द – एक सफल जीवन के लिए –

(100 Word “or” Ten Word For A Successful Life )

“तू न हो निराश कभी मन से” किताब => लेखक कृष्ण मोहन सिंह (kmsraj51)

“अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो, की  व्यथ॔ के लीये समय ही ना बचे” -Kmsraj51 

Soulword_kmsraj51 - Change Y M T

कुछ भी आप के लिए संभव है ॥

जीवन मंदिर सा पावन हाे, बाताें में सुंदर सावन हाे।

स्वाथ॔ ना भटके पास ज़रा भी, हर दिन मानो वृंदावन हाे॥

~kmsraj51

95+ देश के पाठकों द्वारा पढ़ा जाने वाला हिन्दी वेबसाइट है,, –

https://kmsraj51.wordpress.com/

मैं अपने सभी प्रिय पाठकों का आभारी हूं…..  I am grateful to all my dear readers …..

“तू न हो निराश कभी मन से” book

~Change your mind thoughts~

@2014-all rights reserve under kmsraj51

——————– —– https://kmsraj51.wordpress.com/ —– ——————

 

 

This is love … !!

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms


Real Artप्यार यही है…

प्यार न कुआं देखता है न खाई। सदियों-सदियों की दास्तां यही है। लैला-मजनूं, हीर-रांझा की दुहाई देते प्रेमी थकते नहीं। पर, प्यार की असली परिभाषा क्या है? दिलों की गहराई में उतर जाने वाला प्यार क्या भौतिक लिप्सा की दीवारों से टकराकर उसी भौतिक दुनिया में लौट आता है या फिर उस सीमा के पार…। जहां उसकी व्यापक परिभाषा होती है, जहां त्याग में ही ‘समर्पण; होता है।

एक घटना को लेकर कई सवाल झकझोर रहे। और लोग इस पर क्या सोचते हैं, मैं नहीं जानता। लेकिन, हाल के दिनों में प्यार, ऑनर किलिंग…, यूथ चेंज, न्यू जेनरेशन, लिव इन रिलेशन वगैरह को लेकर छिड़ी बहस में एक वाकया यह भी। क्या अभिभावकों को बच्चों से अपना हक छोड़ देना चाहिए? या, बच्चों को समझने की कोशिश भी करनी चाहिए कि वे चाहते क्या हैं?

घटना यूं है। मध्यप्रदेश की एक लड़की। उसने शादी कर ली एक दूसरे संप्रदाय के लड़के से। चार महीने पहले दोनों में मुलाकात हुई। पहली मुलाकात, कोई सप्ताह भर बाद मुलाकात प्यार में तब्दील। दोनों अलग-अलग संप्रदाय के। लड़की ने लड़के का मजहब भी कबूल लिया। सब कुछ चार महीने में ही हो गया। प्यार की यह गाड़ी बहुत तेज चली। चलिए बात खत्म। पर, बात यहीं तक नहीं है। उस लड़की ने लड़के पर शोषण का केस भी दर्ज किया। फिर लड़की मध्यप्रदेश से भागकर बोकारो आ गई। वहां से रांची। कहा, वह मुकदमा घर वालों के दबाव में किया था। इस बीच लड़का जेल चला गया था, दूसरे मामले में। दरअसल, उस लड़के की शादी पहले ही हो चुकी है। एक बच्चा भी है। पत्नी को सारा माजरा पता चला तो उसने ठोक दिया दहेज प्रताडऩा का केस। वह उसी मामले में जेल में बंद रहा। जमानत मिली तो प्रेमिका आ चुकी थी। मुकदमा तो उसने भी किया था। कहा कि परिवार के दबाव में शोषण का कराया था। हां, उसके प्रेमी की पत्नी चाहे तो हमारे साथ रह सकती है। कोई आपत्ति नहीं होगी। फिलहाल, दोनों साथ-साथ हैं। इस प्रेमी युगल ने बताया कि उनकी जान पर खतरा भी है। इस घनचक्कर भरी कहानी में यूथ जेनरेशन की ही बात करें तो उसने तथाकथित सामाजिक दायरे के बंधन तोड़ डाले। दुनिया चांद पर जा रही है तो वहां इन सबका क्या मायने? पर, घर-परिवार सबको ठोकर मारने वाला यह यूथ कपल उस यूथ का कोई जवाब नहीं दे सकता, जिसकी गोद में एक बच्चा भी है। यह बात प्रेमी को भी पता थी और प्रेमिका को भी…। बस! शुरू में ही यह सवाल मैंने इसलिए पूछा कि प्यार की परिभाषा क्या होती है? क्या वह उसे पाने की इच्छा रखता है, छूने की इच्छा करता है? या नि:स्वार्थ उस प्रेम को पूजा मान यादों में बसा जिंदगी काट देता है। उस लड़की ने एक बात कही, ‘हम अच्छे दोस्त बनकर रहना चाहते थे। दोनों को पता था कि उसकी शादी हो चुकी है। लेकिन फिर प्यार हो गया, शादी का फैसला कर लिया… वाकई! इस कंप्यूटराइज्ड युग में लव भी कंप्यूटराइज्ड, टू फास्ट…।


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

::::::::::::::::::: ~ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..:::::::::::::::::::