महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक ~ Useful Internet Links !!


9-3-14 kmsraj51

::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..

 

 

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms

** महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक ~ Useful Internet Links !!**


महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक
Useful Links
________________________________________
• परमाणु ऊर्जा विभाग
• भारत सरकार
• हिन्दी फोन्ट, हिन्दी साफ्टवेयर, राजभाषा विभाग
• विश्वविद्यालय
• केन्द्रीय विश्वविद्यालय
• फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची
• स्कूल/विद्यालयीन शिक्षा
• तकनीकी शिक्षा विभाग
• छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
• राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र
• विज्ञान अकादमी
• हिन्दी भाषा में कार्यरत संस्थाएं
• शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत संस्थाएं/गैर सरकारी संगठन (NGO)
• हिन्दी विज्ञान/साहित्यिक पत्रिकाएँ
• हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (Hindi Wikipedia)
• विविध रोचक एवं उपयोगी लिंक

परमाणु ऊर्जा विभाग
परमाणु ऊर्जा विभाग
http://www.dae.gov.in

भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र मुम्बई
http://www.barc.gov.in/

परमाणु ऊर्जा शिक्षण संस्था
http://www.aees.gov.in

टाटा मूलभूत अनुसंधान केंद्र मुम्बई
http://www.tifr.res.in

School of Mathematics, TIFR Mumbai
http://www.math.tifr.res.in

School of Natural Sciences, TIFR Mumbai
http://www.tifr.res.in/~vsrp/links/links.htm

School of Technology and Computer Science, TIFR Mumbai
http://www.tcs.tifr.res.in

Graduate Studies, TIFR Mumbai
http://univ.tifr.res.in

National Centre for Biological Science, Bangalore
http://www.ncbs.res.in

National Centre for Radio Astrophysics, Pune
http://ncra.tifr.res.in

International Centre for Theoretical Science, TIFR Mumbai
http://www.icts.res.in

होमी भाभा विज्ञान शिक्षा केन्द्र, मुम्बई
http://www.hbcse.tifr.res.in

National Initiative on Undergraduate Science (NIUS), HBCSE Mumbai
http://nius.hbcse.tifr.res.in/

होमी भाभा प्राथमिक विज्ञान पाठ्यक्रम
http://coglab.hbcse.tifr.res.in

विज्ञान ओलम्पियाड, मुम्बई
http://olympiads.hbcse.tifr.res.in/

भारत सरकार
भारत सरकार
http://goidirectory.nic.in/

anniversary-1x

भारत का राष्ट्रीय पोर्टल
http://india.gov.in

भारत विकास प्रवेशद्वार
http://www.indg.gov.in

विदेश मंत्रालय
http://meahindi.nic.in

हिन्दी फोन्ट, हिन्दी सॉफ्टवेयर, राजभाषा विभाग
राजभाषा विभाग भारत सरकार
http://rajbhasha.gov.in

भारतीय भाषाऔं के लिये प्रौद्योगिकी विकास (फोन्ट एवं साफ्टवेयर)
http://ildc.in

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग
http://deity.gov.in/content/about-dit

प्रगत संगणन विकास केन्द्र
http://www.cdac.in/

डाउनलोड हिन्दी फोन्ट
http://www.wazu.jp/gallery/Fonts_Devanagari.html
http://www.ffonts.net/Hindi.html
http://devanaagarii.net/fonts/

डाउनलोड यूनिकोड हिन्दी फोन्ट
http://salrc.uchicago.edu/resources/fonts/available/hindi/
http://www.alanwood.net/unicode/fonts.html#devanagari

माईक्रोसॉफ्ट भाषा इण्डिया
http://www.bhashaindia.com/ilit/Hindi.aspx

फॉण्ट परिवर्तक
http://www.kavitakosh.org/convertfonts

वेबदुनिया का ‘डेटा कनवर्टर – यहाँ सैकड़ों फॉन्ट से यूनिकोड में बदलने की आनलाइन सुविधा है
http://utilities.webdunia.com/dataconversion.php

सम्पूर्ण फाइल (.txt) के फोण्ट को यूनिकोड फोण्ट में बदलने हेतु
http://uni.medhas.org/fileconverterindex.php5

ओपन आफिस में हिन्दी वर्तनी जाँचक (Spell Check) संस्थापित करने हेतु मार्गदर्शन
http://raviratlami.blogspot.com/2006/10/blog-post_07.html

विश्वविद्यालय
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC)
http://www.ugc.ac.in

नकली विश्वविद्यालय की राज्यवार सूची
http://www.ugc.ac.in/page/Fake-Universities.aspx

भारतीय विश्वविद्यालय संघ (AIU)
http://www.aiuweb.org/Members/MembersA.asp

इंदिरा गाँधी राष्ट्रिय मुक्त विश्वविद्यालय
http://www.ignou.ac.in

मुक्त विश्वविद्यालयों/संस्थानों की सूची
http://www.dec.ac.in/Institutions.doc
http://mhrd.gov.in/state_open

दूरस्थ शिक्षा परिषद (Distance Education Council)
http://www.dec.ac.in

उच्चतर शिक्षा विभाग
http://mhrd.gov.in/higher_education

राष्ट्रीय शैक्षिक योजना एवं प्रशासन विश्वविद्यालय
http://www.nuepa.org

केन्द्रीय विश्वविद्यालय
केन्द्रीय विश्व विद्यालय सूची
http://mhrd.gov.in/central_univ_eng_11

इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद, उ.प्र.
http://www.allduniv.ac.in

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़
http://www.amu.ac.in

असम विश्वविद्यालय, सिलचर
http://www.aus.ac.in/

अंग्रेजी एवं विदेशी भाषाऐं विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.efluniversity.ac.in

बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ, उ.प्र.
http://www.bbau.ac.in/

बनारस (काशी) हिन्दु विश्वविद्यालय, बनारस, उ.प्र.
http://www.bhu.ac.in

दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली
http://www.du.ac.in

हैदराबाद विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.uohyd.ac.in/

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
http://jmi.ac.in/

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
http://www.jnu.ac.in

महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय, वर्धा, महाराष्ट्र
http://www.hindivishwa.org

मौलाना आजाद राष्ट्रीय उर्दू विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.manuu.ac.in

मणिपुर विश्वविद्यालय, इम्फाल, मणिपुर
http://manipuruniv.ac.in

मिजोरम विश्वविद्यालय, आइजॉल, मिजोरम
http://www.mzu.edu.in

नागालैण्ड विश्वविद्यालय, कोहिमा, नागालैण्ड
http://www.nagauniv.org.in

नोर्थ ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी, शिलांग, मेघालय
http://www.nehu.ac.in

पांडिचेरी विश्वविद्यालय, पांडिचेरी
http://www.pondiuni.edu.in/

राजीव गांधी विश्वविद्यालय, ईटानगर, अरूणाचल प्रदेश
http://www.rgu.ac.in

सिक्किम विश्वविद्यालय, गंगटोक, सिक्किम
http://www.sikkimuniversity.in/webforms/Index.aspx

तेजपुर विश्वविद्यालय, नापाम, तेजपुर, असम
http://www.tezu.ernet.in

त्रिपुरा विश्वविद्यालय, सूर्यमणिनगर, त्रिपुरा (पश्चिम)
http://www.tripurauniv.in/

विश्व भारती, बिरभुम, पश्चिम बंगाल
http://www.visva-bharati.ac.in

डॉ. हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर, म.प्र.
http://www.dhsgsu.ac.in/

गुरु घासीदास विश्वविद्यालय, बिलासपुर, छत्तीसगढ़
http://www.ggu.ac.in

हेमवती नन्दन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर, उत्तराखण्ड
http://hnbgu.ac.in/

फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची
नकली विश्वविद्यालय की राज्यवार सूची
http://www.ugc.ac.in/page/Fake-Universities.aspx

स्कूल/विद्यालयीन शिक्षा
स्कूल रिपोर्ट कार्ड
http://schoolreportcards.in

स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग
http://mhrd.gov.in/schooleducation

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड
http://cbse.nic.in

केन्द्रीय विद्यालय संगठन
http://kvsangathan.nic.in

नवोदय विद्यालय समिति
http://www.navodaya.nic.in/

परमाणु ऊर्जा शिक्षण संस्था
http://www.aees.gov.in

तकनीकी शिक्षा विभाग
तकनीकी शिक्षा
http://mhrd.gov.in/technical_edu_hindi

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद
http://www.aicte-india.org/

छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
राष्ट्रीय प्रतिभा खोज (National Talent Search)
http://www.ncert.nic.in/programmes/talent_exam/index_talent.html

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY)
http://www.kvpy.org.in

छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
http://education.nic.in/scholarship/scholarship.asp

J N Tata Endowment (विदेश में उच्च शिक्षा के लिए)
http://www.dorabjitatatrust.org

CENTRE FOR THE STUDY OF CULTURE AND SOCIETY
http://cscs.res.in/fellowships

भारत की अन्य छात्रवृत्तियों की सूची
http://www.scholarshipsinindia.com/
http://www.dst.gov.in/whats_new/advertisements.htm

सर रतन टाटा ट्रस्ट
http://www.srtt.org

राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र
राष्ट्रीय विज्ञान संचार एवं सूचना स्रोत संस्थान (NISCAIR)
http://www.niscair.res.in

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST)
http://dst.gov.in

विज्ञान प्रसार
http://www.vigyanprasar.gov.in/sitenew/

विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी राष्ट्रीय परिषद (NCSTC)
http://dst.gov.in/scientific-programme/s-t_ncstc.htm

राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद (National Council of Science Museums)
http://www.ncsm.gov.in

विज्ञान अकादमी
भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी, नई दिल्ली
http://insaindia.org/index.php

भारतीय विज्ञान अकादमी, बेंगलौर
http://www.ias.ac.in

राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी, इलाहाबाद
http://nasi.nic.in

हिन्दी भाषा में कार्यरत संस्थाएं
केंद्रीय हिन्दी संस्थान, अगरा
http://www.hindisansthan.org/hi/index.htm

राष्ट्रीय अनुवाद मिशन, मैसूर
http://www.ntm.org.in

भारतीय भाषा संस्थान, मैसूर
http://www.ciil.org

शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत संस्थाएं/गैर सरकारी संगठन (NGO)
एकलव्य
http://eklavya.in

नवनिर्मिति

http://www.navnirmiti.org

दिगंतर
http://www.digantar.org

विक्रम ए साराभाई कम्मुनिटी साइंस सेंटर
http://www.vascsc.org

सर दोराबजी टाटा ट्रस्ट
http://www.dorabjitatatrust.org/

ईस्ट एण्ड वेस्ट एजुकेशनल सोसायटी
http://www.eastwestindia.org

प्रथम
http://www.pratham.org/

अक्षरा
http://www.akshara.org.in/

अजीम प्रेमजी फॉउण्डेशन
http://www.azimpremjifoundation.org/

सेन्टर फॉर एन्वायरमेन्ट एजुकेशन
http://www.ceeindia.org/cee/index.html

मुस्कान
http://www.muskan.org/

idiscoveri
http://www.idiscoveri.com/

मराठी विज्ञान परिषद्
http://www.mavipamumbai.org/

कृष्णमूर्ती फॉउण्डेशन
http://www.kfionline.org/

सेन्टर फॉर लर्निंग
http://www.cfl.in/

Jidnyasa Trust Thane
http://www.jidnyasa.org.in/

ग्राम मंगल
http://www.grammangal.org/

EnviroVigil
http://envirovigil.org/Homepage.html

डोरस्टेप स्कूल
http://www.doorstepschool.org/

विज्ञान आश्रम
http://www.vigyanashram.com/

अगस्तय फॉउन्डेशन
http://www.agastya.org/

नवनिर्मिति
http://www.navnirmiti.org/

मुक्त आंगन विज्ञान शोधिका (पुलस्तय) IUCAA’s Children’s Science Centre
http://www.iucaa.ernet.in/~scipop/Pulastya/index.html

विनिमय
http://www.vinimaytrust.org/

हिन्दी विज्ञान/साहित्यिक पत्रिकाएँ
कविता कोश
http://www.kavitakosh.org/kk/index.php?title=कविता_कोश_मुखपृष्ठ

संदर्भ – शिक्षा की त्रैमासिक पत्रिका (एकलव्य)
http://www.eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=51&Itemid=72

स्रोत (एकलव्य)
http://eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=56&Itemid=81

चकमक (एकलव्य)
http://eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=57&Itemid=84

भारत-दर्शन, हिन्दी साहित्यिक पत्रिका
http://www.bharatdarshan.co.nz

वागर्थ हिन्दी मासिक पत्रिका
http://www.bharatiyabhashaparishad.com

अनुभूति
http://www.anubhuti-hindi.org

अभिव्यक्ति
http://www.abhivyakti-hindi.org

अन्यथा
http://www.anyatha.com

हिन्दी नेस्ट डॉट कॉम
http://hindinest.com

शिक्षा विमर्श
http://www.digantar.org/vimarsh

हिन्दी चेतना (कनाडा)
http://www.vibhom.com

गीता-कविता
http://www.geeta-kavita.com/Default.asp

हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (Hindi Wikipedia)
हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://hi.wikipedia.org/wiki/मुखपृष्ठ

हिन्दी विकि-शब्दकोश
http:hi.wiktionary.org/wiki/मुख्य_पृष्ठ

इंटरनेट पर हिन्दी के साधन
http://hi.wikipedia.org/wiki/इंटरनेट_पर_हिन्दी_के_साधन

हिन्दी वेब साइट की सूची
http://hi.wikipedia.org/wiki/हिन्दी_में_वैब_साइट्स_की_एक_सूची

देवनागरी में कैसे टाइप करें
http://hi.wikipedia.org/wiki/विकिपीडिया:देवनागरी_में_कैसे_टाइप_करें

इन्टरनेट पर स्थित हिन्दी पत्रिकाएँ
http://hi.wikipedia.org/wiki/अन्तरजाल_पर_स्थित_हिन्दी_पत्रिकाएँ

ऑन लाइन हिन्दी समाचार पत्र
http://hi.wikipedia.org/wiki/अन्तरजालीय_हिन्दी_समाचार_स्थल

विविध रोचक एवं उपयोगी लिंक
सौर मण्डल का त्रि-आयामी एवं इन्टरैक्टिव मॉडल
http://www.solarsystemscope.com

भोजपुरी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://bh.wikipedia.org/wiki/पहिलका_पन्ना

मराठी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://mr.wikipedia.org/wiki/मुखपृष्ठ

ऑन लाइन हिन्दी कीबोर्ड
http://swecha.org/input/index.html

ऑन लाइन हिन्दी कीबोर्ड
http://www.google.com/intl/hi/inputtools/cloud/try/

ऑन स्क्रीन हिन्दी कीबोर्ड
http://labs.google.co.in/keyboards/hindi.html

ऑन लाइन अनुवाद के लिए
http://www.google.co.in/language_tools?hl=en
http://www.mantra-rajbhasha.cdac.in/mantrarajbhasha/

रोजगार समाचार
http://www.employmentnews.gov.in

राजभाषा.काम
http://www.rajbhasha.com

वेब दुनिया
http://hindi.webdunia.com

भारत कोश
http://hi.bharatdiscovery.org


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
kms1006

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

@@@@@ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. @@@@@

Advertisements

महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक ~ Useful Internet Links !!

::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..

KMS-2014-51

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms

** महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक ~ Useful Internet Links !!**


महत्वपूर्ण इन्टरनेट लिंक
Useful Links
________________________________________
• परमाणु ऊर्जा विभाग
• भारत सरकार
• हिन्दी फोन्ट, हिन्दी साफ्टवेयर, राजभाषा विभाग
• विश्वविद्यालय
• केन्द्रीय विश्वविद्यालय
• फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची
• स्कूल/विद्यालयीन शिक्षा
• तकनीकी शिक्षा विभाग
• छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
• राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र
• विज्ञान अकादमी
• हिन्दी भाषा में कार्यरत संस्थाएं
• शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत संस्थाएं/गैर सरकारी संगठन (NGO)
• हिन्दी विज्ञान/साहित्यिक पत्रिकाएँ
• हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (Hindi Wikipedia)
• विविध रोचक एवं उपयोगी लिंक

परमाणु ऊर्जा विभाग
परमाणु ऊर्जा विभाग
http://www.dae.gov.in

भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र मुम्बई
http://www.barc.gov.in/

परमाणु ऊर्जा शिक्षण संस्था
http://www.aees.gov.in

टाटा मूलभूत अनुसंधान केंद्र मुम्बई
http://www.tifr.res.in

School of Mathematics, TIFR Mumbai
http://www.math.tifr.res.in

School of Natural Sciences, TIFR Mumbai
http://www.tifr.res.in/~vsrp/links/links.htm

School of Technology and Computer Science, TIFR Mumbai
http://www.tcs.tifr.res.in

Graduate Studies, TIFR Mumbai
http://univ.tifr.res.in

National Centre for Biological Science, Bangalore
http://www.ncbs.res.in

National Centre for Radio Astrophysics, Pune
http://ncra.tifr.res.in

International Centre for Theoretical Science, TIFR Mumbai
http://www.icts.res.in

होमी भाभा विज्ञान शिक्षा केन्द्र, मुम्बई
http://www.hbcse.tifr.res.in

National Initiative on Undergraduate Science (NIUS), HBCSE Mumbai
http://nius.hbcse.tifr.res.in/

होमी भाभा प्राथमिक विज्ञान पाठ्यक्रम
http://coglab.hbcse.tifr.res.in

विज्ञान ओलम्पियाड, मुम्बई
http://olympiads.hbcse.tifr.res.in/

भारत सरकार
भारत सरकार
http://goidirectory.nic.in/

भारत का राष्ट्रीय पोर्टल
http://india.gov.in

भारत विकास प्रवेशद्वार
http://www.indg.gov.in

विदेश मंत्रालय
http://meahindi.nic.in

हिन्दी फोन्ट, हिन्दी सॉफ्टवेयर, राजभाषा विभाग
राजभाषा विभाग भारत सरकार
http://rajbhasha.gov.in

भारतीय भाषाऔं के लिये प्रौद्योगिकी विकास (फोन्ट एवं साफ्टवेयर)
http://ildc.in

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग
http://deity.gov.in/content/about-dit

प्रगत संगणन विकास केन्द्र
http://www.cdac.in/

डाउनलोड हिन्दी फोन्ट
http://www.wazu.jp/gallery/Fonts_Devanagari.html
http://www.ffonts.net/Hindi.html
http://devanaagarii.net/fonts/

डाउनलोड यूनिकोड हिन्दी फोन्ट
http://salrc.uchicago.edu/resources/fonts/available/hindi/
http://www.alanwood.net/unicode/fonts.html#devanagari

माईक्रोसॉफ्ट भाषा इण्डिया
http://www.bhashaindia.com/ilit/Hindi.aspx

फॉण्ट परिवर्तक
http://www.kavitakosh.org/convertfonts

वेबदुनिया का ‘डेटा कनवर्टर – यहाँ सैकड़ों फॉन्ट से यूनिकोड में बदलने की आनलाइन सुविधा है
http://utilities.webdunia.com/dataconversion.php

सम्पूर्ण फाइल (.txt) के फोण्ट को यूनिकोड फोण्ट में बदलने हेतु
http://uni.medhas.org/fileconverterindex.php5

ओपन आफिस में हिन्दी वर्तनी जाँचक (Spell Check) संस्थापित करने हेतु मार्गदर्शन
http://raviratlami.blogspot.com/2006/10/blog-post_07.html

विश्वविद्यालय
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC)
http://www.ugc.ac.in

नकली विश्वविद्यालय की राज्यवार सूची
http://www.ugc.ac.in/page/Fake-Universities.aspx

भारतीय विश्वविद्यालय संघ (AIU)
http://www.aiuweb.org/Members/MembersA.asp

इंदिरा गाँधी राष्ट्रिय मुक्त विश्वविद्यालय
http://www.ignou.ac.in

मुक्त विश्वविद्यालयों/संस्थानों की सूची
http://www.dec.ac.in/Institutions.doc
http://mhrd.gov.in/state_open

दूरस्थ शिक्षा परिषद (Distance Education Council)
http://www.dec.ac.in

उच्चतर शिक्षा विभाग
http://mhrd.gov.in/higher_education

राष्ट्रीय शैक्षिक योजना एवं प्रशासन विश्वविद्यालय
http://www.nuepa.org

केन्द्रीय विश्वविद्यालय
केन्द्रीय विश्व विद्यालय सूची
http://mhrd.gov.in/central_univ_eng_11

इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद, उ.प्र.
http://www.allduniv.ac.in

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़
http://www.amu.ac.in

असम विश्वविद्यालय, सिलचर
http://www.aus.ac.in/

अंग्रेजी एवं विदेशी भाषाऐं विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.efluniversity.ac.in

बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ, उ.प्र.
http://www.bbau.ac.in/

बनारस (काशी) हिन्दु विश्वविद्यालय, बनारस, उ.प्र.
http://www.bhu.ac.in

दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली
http://www.du.ac.in

हैदराबाद विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.uohyd.ac.in/

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
http://jmi.ac.in/

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
http://www.jnu.ac.in

महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय, वर्धा, महाराष्ट्र
http://www.hindivishwa.org

मौलाना आजाद राष्ट्रीय उर्दू विश्वविद्यालय, हैदराबाद
http://www.manuu.ac.in

मणिपुर विश्वविद्यालय, इम्फाल, मणिपुर
http://manipuruniv.ac.in

मिजोरम विश्वविद्यालय, आइजॉल, मिजोरम
http://www.mzu.edu.in

नागालैण्ड विश्वविद्यालय, कोहिमा, नागालैण्ड
http://www.nagauniv.org.in

नोर्थ ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी, शिलांग, मेघालय
http://www.nehu.ac.in

पांडिचेरी विश्वविद्यालय, पांडिचेरी
http://www.pondiuni.edu.in/

राजीव गांधी विश्वविद्यालय, ईटानगर, अरूणाचल प्रदेश
http://www.rgu.ac.in

सिक्किम विश्वविद्यालय, गंगटोक, सिक्किम
http://www.sikkimuniversity.in/webforms/Index.aspx

तेजपुर विश्वविद्यालय, नापाम, तेजपुर, असम
http://www.tezu.ernet.in

त्रिपुरा विश्वविद्यालय, सूर्यमणिनगर, त्रिपुरा (पश्चिम)
http://www.tripurauniv.in/

विश्व भारती, बिरभुम, पश्चिम बंगाल
http://www.visva-bharati.ac.in

डॉ. हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर, म.प्र.
http://www.dhsgsu.ac.in/

गुरु घासीदास विश्वविद्यालय, बिलासपुर, छत्तीसगढ़
http://www.ggu.ac.in

हेमवती नन्दन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर, उत्तराखण्ड
http://hnbgu.ac.in/

फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची
नकली विश्वविद्यालय की राज्यवार सूची
http://www.ugc.ac.in/page/Fake-Universities.aspx

स्कूल/विद्यालयीन शिक्षा
स्कूल रिपोर्ट कार्ड
http://schoolreportcards.in

स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग
http://mhrd.gov.in/schooleducation

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड
http://cbse.nic.in

केन्द्रीय विद्यालय संगठन
http://kvsangathan.nic.in

नवोदय विद्यालय समिति
http://www.navodaya.nic.in/

परमाणु ऊर्जा शिक्षण संस्था
http://www.aees.gov.in

तकनीकी शिक्षा विभाग
तकनीकी शिक्षा
http://mhrd.gov.in/technical_edu_hindi

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद
http://www.aicte-india.org/

छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
राष्ट्रीय प्रतिभा खोज (National Talent Search)
http://www.ncert.nic.in/programmes/talent_exam/index_talent.html

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY)
http://www.kvpy.org.in

छात्रवृत्ति एवं शिक्षा ऋण
http://education.nic.in/scholarship/scholarship.asp

J N Tata Endowment (विदेश में उच्च शिक्षा के लिए)
http://www.dorabjitatatrust.org

CENTRE FOR THE STUDY OF CULTURE AND SOCIETY
http://cscs.res.in/fellowships

भारत की अन्य छात्रवृत्तियों की सूची
http://www.scholarshipsinindia.com/
http://www.dst.gov.in/whats_new/advertisements.htm

सर रतन टाटा ट्रस्ट
http://www.srtt.org

राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र
राष्ट्रीय विज्ञान संचार एवं सूचना स्रोत संस्थान (NISCAIR)
http://www.niscair.res.in

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST)
http://dst.gov.in

विज्ञान प्रसार
http://www.vigyanprasar.gov.in/sitenew/

विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी राष्ट्रीय परिषद (NCSTC)
http://dst.gov.in/scientific-programme/s-t_ncstc.htm

राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद (National Council of Science Museums)
http://www.ncsm.gov.in

विज्ञान अकादमी
भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी, नई दिल्ली
http://insaindia.org/index.php

भारतीय विज्ञान अकादमी, बेंगलौर
http://www.ias.ac.in

राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी, इलाहाबाद
http://nasi.nic.in

हिन्दी भाषा में कार्यरत संस्थाएं
केंद्रीय हिन्दी संस्थान, अगरा
http://www.hindisansthan.org/hi/index.htm

राष्ट्रीय अनुवाद मिशन, मैसूर
http://www.ntm.org.in

भारतीय भाषा संस्थान, मैसूर
http://www.ciil.org

शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत संस्थाएं/गैर सरकारी संगठन (NGO)
एकलव्य
http://eklavya.in

नवनिर्मिति

http://www.navnirmiti.org

दिगंतर
http://www.digantar.org

विक्रम ए साराभाई कम्मुनिटी साइंस सेंटर
http://www.vascsc.org

सर दोराबजी टाटा ट्रस्ट
http://www.dorabjitatatrust.org/

ईस्ट एण्ड वेस्ट एजुकेशनल सोसायटी
http://www.eastwestindia.org

प्रथम
http://www.pratham.org/

अक्षरा
http://www.akshara.org.in/

अजीम प्रेमजी फॉउण्डेशन
http://www.azimpremjifoundation.org/

सेन्टर फॉर एन्वायरमेन्ट एजुकेशन
http://www.ceeindia.org/cee/index.html

मुस्कान
http://www.muskan.org/

idiscoveri
http://www.idiscoveri.com/

मराठी विज्ञान परिषद्
http://www.mavipamumbai.org/

कृष्णमूर्ती फॉउण्डेशन
http://www.kfionline.org/

सेन्टर फॉर लर्निंग
http://www.cfl.in/

Jidnyasa Trust Thane
http://www.jidnyasa.org.in/

ग्राम मंगल
http://www.grammangal.org/

EnviroVigil
http://envirovigil.org/Homepage.html

डोरस्टेप स्कूल
http://www.doorstepschool.org/

विज्ञान आश्रम
http://www.vigyanashram.com/

अगस्तय फॉउन्डेशन
http://www.agastya.org/

नवनिर्मिति
http://www.navnirmiti.org/

मुक्त आंगन विज्ञान शोधिका (पुलस्तय) IUCAA’s Children’s Science Centre
http://www.iucaa.ernet.in/~scipop/Pulastya/index.html

विनिमय
http://www.vinimaytrust.org/

हिन्दी विज्ञान/साहित्यिक पत्रिकाएँ
कविता कोश
http://www.kavitakosh.org/kk/index.php?title=कविता_कोश_मुखपृष्ठ

संदर्भ – शिक्षा की त्रैमासिक पत्रिका (एकलव्य)
http://www.eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=51&Itemid=72

स्रोत (एकलव्य)
http://eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=56&Itemid=81

चकमक (एकलव्य)
http://eklavya.in/go/index.php?option=com_content&task=category&sectionid=13&id=57&Itemid=84

भारत-दर्शन, हिन्दी साहित्यिक पत्रिका
http://www.bharatdarshan.co.nz

वागर्थ हिन्दी मासिक पत्रिका
http://www.bharatiyabhashaparishad.com

अनुभूति
http://www.anubhuti-hindi.org

अभिव्यक्ति
http://www.abhivyakti-hindi.org

अन्यथा
http://www.anyatha.com

हिन्दी नेस्ट डॉट कॉम
http://hindinest.com

शिक्षा विमर्श
http://www.digantar.org/vimarsh

हिन्दी चेतना (कनाडा)
http://www.vibhom.com

गीता-कविता
http://www.geeta-kavita.com/Default.asp

हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (Hindi Wikipedia)
हिन्दी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://hi.wikipedia.org/wiki/मुखपृष्ठ

हिन्दी विकि-शब्दकोश
http:hi.wiktionary.org/wiki/मुख्य_पृष्ठ

इंटरनेट पर हिन्दी के साधन
http://hi.wikipedia.org/wiki/इंटरनेट_पर_हिन्दी_के_साधन

हिन्दी वेब साइट की सूची
http://hi.wikipedia.org/wiki/हिन्दी_में_वैब_साइट्स_की_एक_सूची

देवनागरी में कैसे टाइप करें
http://hi.wikipedia.org/wiki/विकिपीडिया:देवनागरी_में_कैसे_टाइप_करें

इन्टरनेट पर स्थित हिन्दी पत्रिकाएँ
http://hi.wikipedia.org/wiki/अन्तरजाल_पर_स्थित_हिन्दी_पत्रिकाएँ

ऑन लाइन हिन्दी समाचार पत्र
http://hi.wikipedia.org/wiki/अन्तरजालीय_हिन्दी_समाचार_स्थल

विविध रोचक एवं उपयोगी लिंक
सौर मण्डल का त्रि-आयामी एवं इन्टरैक्टिव मॉडल
http://www.solarsystemscope.com

भोजपुरी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://bh.wikipedia.org/wiki/पहिलका_पन्ना

मराठी मुक्त ज्ञानकोष (wikipedia)
http://mr.wikipedia.org/wiki/मुखपृष्ठ

ऑन लाइन हिन्दी कीबोर्ड
http://swecha.org/input/index.html

ऑन लाइन हिन्दी कीबोर्ड
http://www.google.com/intl/hi/inputtools/cloud/try/

ऑन स्क्रीन हिन्दी कीबोर्ड
http://labs.google.co.in/keyboards/hindi.html

ऑन लाइन अनुवाद के लिए
http://www.google.co.in/language_tools?hl=en
http://www.mantra-rajbhasha.cdac.in/mantrarajbhasha/

रोजगार समाचार
http://www.employmentnews.gov.in

राजभाषा.काम
http://www.rajbhasha.com

वेब दुनिया
http://hindi.webdunia.com

भारत कोश
http://hi.bharatdiscovery.org


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
kms1006

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

@@@@@ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. @@@@@

The Life and Times of Gautama Buddha in Hindi

Kmsraj51 की कलम से…..

Kmsraj51-CYMT09

हिन्दी में गौतम बुद्ध के जीवन और समय का विस्तार

 सामान्य व्यक्ति से महापुरुष तक का सफर – महात्मा बुद्ध 

भारत की पवित्र भूमि पर ऐसे कई महापुरुषों ने जन्म लिया है, जिन्होंने अपने कृत्यों और सिद्धांतों के बल पर मानव जीवन के भीतर छिपे गूढ़ रहस्यों को उजागर किया. इन्हीं में से एक हैं महात्मा बुद्ध, जिन्होंने सामान्य मनुष्य के रूप में जन्म लेकर अध्यात्म की उस ऊंचाई को छुआ जहां तक पहुंचना किसी आम व्यक्ति के लिए मुमकिन नहीं है. ऐसे महान पुरुष के दिखलाए गए मार्ग को लोगों ने एक धर्म के रूप में ग्रहण किया जिसके परिणामस्वरूप भारत समेत सभी बड़े देशों में बौद्ध धर्म एक प्रमुख धर्म के रूप में स्वीकृत कर लिया गया.

महात्मा बुद्ध का वास्तविक नाम सिद्धार्थ था किंतु गौतमी द्वारा पाले जाने के कारण उन्हें गौतम भी कहा गया. बुद्धत्व की प्राप्ति के बाद उनके नाम के आगे बुद्ध उपसर्ग जोड़ दिया गया और धीरे-धीरे वे महात्मा बुद्ध के तौर पर प्रख्यात हो गए. गौतम बुद्ध के आदर्शों और बौद्ध धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए आज का दिन बेहद खास है. मान्यताओं के अनुसार बैसाख मास की पूर्णिमा के दिन महात्मा बुद्ध पृथ्वी पर अवतरित हुए थे और इसी दिन उन्हें बुद्धत्व के साथ-साथ महापरिनिर्वाण की भी प्राप्ति हुई थी.

महात्मा बुद्ध का जीवन

सिद्धार्थ का जन्म शाक्य गणराज्य की राजधानी कपिलवस्तु के राजा शुद्धोधन के घर हुआ था. जन्म के सात दिन के भीतर ही सिद्धार्थ की मां का निधन हो गया था. उनका पालन पोषण शुद्धोधन की दूसरी रानी महाप्रजावती ने किया. सिद्धार्थ के जन्म के समय ही एक महान साधु नेब यह घोषणा कर दी थी कि यह बच्चा या तो एक महान राजा बनेगा या फिर एक बेहद पवित्र मनुष्य के रूप में अपनी पहचान स्थापित करेगा.

इस भविष्यवाणी को सुनकर राजा शुद्धोधन ने अपनी सामर्थ्य की हद तक सिद्धार्थ को दुःख से दूर रखने की कोशिश की. लेकिन छोटी सी आयु में ही सिद्धार्थ जीवन और मृत्यु की सच्चाई को समझ गए. उन्होंने यह जान लिया कि जिस प्रकार मनुष्य का जन्म लेना एक सच्चाई है उसी प्रकार बुढ़ापा और निधन भी जीवन की कभी ना टलने वाली हकीकत है. संसार की सबसे बड़ी सच्चाई जानने के बाद महात्मा बुद्ध सांसारिक खुशियों और विलासिता भरे जीवन से पूरी तरह विमुख हो गए. राज पाठ के साथ, पत्नी और पुत्र को छोड़कर उन्होंने एक साधु का जीवन अपना लिया !!

बुद्धत्व की प्राप्ति 

दो अन्य ब्राह्मणों के साथ सिद्धार्थ ने अपने भीतर उपज रहे प्रश्नों के हल ढूंढ़ने शुरू किए. लेकिन समुचित ध्यान लगाने और कड़े परिश्रम के बाद भी उन्हें अपने प्रश्नों के हल नहीं मिले. हर बार असफलता हाथ लगने के बाद उन्होंने अपने कुछ साथियों के साथ कठोर तप करने का निर्णय लिया. छ: वर्षों के कठोर तप के बाद भी वह अपने उद्देश्यों को पूरा नहीं कर पाए. इसके बाद उन्होंने कठोर तपस्या छोड़कर आर्य अष्टांग मार्ग, जिसे मध्यम मार्ग भी कहां जाता है, ढूंढ़ निकाला. वह एक पीपल के पेड़ के नीचे बैठ गए और निश्चय किया कि अपने प्रश्नों के उत्तर जाने बिना वह यहां से उठेंगे नहीं. लगभग 49 दिनों तक ध्यान में रहने के बाद उन्हें सर्वोच्च ज्ञान की प्राप्ति हुई और मात्र 35 वर्ष की उम्र में ही वह सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध बन गए!!

ज्ञान की प्राप्ति होने के बाद महात्मा बुद्ध दो व्यापारियों, तपुसा और भलिका, से मिले जो उनके पहले अनुयायी भी बने. वाराणसी के समीप स्थित सारनाथ में उन्होंने अपना पहला धर्मोपदेश दिया !!

बुद्ध का महापरिनिर्वाण 

बौद्ध धर्म से जुड़े साहित्य के अनुसार 80 वर्ष की आयु में महात्मा बुद्ध ने यह घोषित कर दिया था कि बहुत ही जल्द वह महापरिनिर्वाण की अवस्था में पहुंच जाएंगे. इस कथन के बाद महात्मा बुद्ध ने एक लुहार के हाथ से आखिरी निवाला खाया. इसके बाद वह बहुत ज्यादा बीमार हो गए. लुहार को लगा कि उसके हाथ से खाने के कारण महात्मा बुद्ध की यह हालत हुई है इसीलिए महात्मा बुद्ध ने अपने एक अनुयायी को कुंडा नामक लुहार को समझाने भेजा. वैद्य ने भी यह प्रमाणित कर दिया था कि उनका निधन वृद्धावस्था के कारण हुआ है ना कि विशाक्त खाद्य के कारण!!

बौद्ध धर्म की मुख्य-शिक्षा 

सम्यक दृष्टि – सम्यक दृष्टि का अर्थ है कि जीवन में हमेशा सुख-दुख आता रहता है हमें अपने नजरिये को सही रखना चाहिए. अगर दुख है तो उसे दूर भी किया जा सकता है!!

सम्यक संकल्प – इसका अर्थ है कि जीवन में जो काम करने योग्य है, जिससे दूसरों का भला होता है हमें उसे करने का संकल्प लेना चाहिए और ऐसे काम कभी नहीं करने चाहिए जो अन्य लोगों के लिए हानिकारक साबित हो!!

सम्यक वचन – इसका अर्थ यह है कि मनुष्य को अपनी वाणी का सदैव सदुपयोग ही करना चाहिए. असत्य, निंदा और अनावश्यक बातों से बचना चाहिए!!

सम्यक कर्मांत – मनुष्य को किसी भी प्राणी के प्रति मन, वचन, कर्म से हिंसक व्यवहार नहीं करना चाहिए. उसे दुराचार और भोग विलास से दूर रहना चाहिए!!

सम्यक आजीविका – गलत, अनैतिक या अधार्मिक तरीकों से आजीविका प्राप्त नहीं करना!!

सम्यक व्यायाम – बुरी और अनैतिक आदतों को छोडऩे का सच्चे मन से प्रयास करना चाहिए. मनुष्य को सदगुणों को ग्रहण करने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए!!

सम्यक स्मृति – इसका अर्थ यह है कि हमें कभी भी यह नहीं भूलना चाहिए कि सांसारिक जीवन क्षणिक और नाशवान है!!

सम्यक समाधि – ध्यान की वह अवस्था जिसमें मन की अस्थिरता, चंचलता, शांत होती है तथा विचारों का अनावश्यक भटकाव रुकता है!!

 

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

 

 

_______Copyright © 2014 kmsraj51.com All Rights Reserved.________

Life Management in Hindi !!


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
KMS-2014-51

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms


अच्छे लोग और अपने हितैषियों को हम पहचान नहीं पाते और अपने विरोधियों के प्रति पूरी तरह शत्रुता, इन्कारने का भाव रख लेते हैं। इसे चिंतन दोष कहा जाएगा। न कोई पूरी तरह अच्छाई से भरा है और नहीं बुराइयों से भरपूर होगा। मनुष्य गुण-दुर्गुण का मिलाजुला रूप है। हमें इस संतुलन के विचार को सावधानी से उपयोग में लाना चाहिए। अपने विरोधियों के विचार जानते रहना चाहिए, खासतौर पर जब वे आपके लिए व्यक्तिगत टिप्पणी कर रहे हों।

यदि इसका निष्पक्ष विश्लेषण करें तो हमें बहुत सी काम की और हितकारी बातें हाथ लग सकती हैं। इस प्रयोग को झेन फकीरों ने बखूबी किया है। जब भी कोई शिष्य उनसे दीक्षित होता, तो गुरु कहते जाओ, हमने पा लिया, हमारे हो गए, अब कुछ दिन जरूरी रूप से हमारे विरोधी के पास जाकर रहो। हमारा दूसरा पक्ष वहां नजर आएगा, लेकिन जाना निष्पक्ष होकर। इस बात की पूरी संभावना रहेगी कि विरोधी कुछ मामले में सही भी हो।

हमारा और विरोधी का पक्ष मिलकर एक तीसरा नया पक्ष बन जाए जो और भी श्रेष्ठ हो सकता है। यदि तुम्हारा इरादा नेक होगा तो हमारे और हमारे विरोधी दोनों की गलत बात को नकार कर तुम एक नई सही बात प्राप्त कर लोगे। इसलिए विरोधी विचार या व्यक्ति से शत्रुता न पाली जाए। यदि नेक इरादे से चलेंगे तब जो आज शत्रु है कल मित्र हो सकता है। यदि अपने भीतर की आध्यात्मिक योग्यता को विकसित करना है तो विरोधी के विचार को सम्मान देना सीख जाएं। स्वयं के व्यक्तित्व को अपने ही विचारों में बांधें न बल्कि विरोधी के विचारों से खोलना भी सीखें।


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
cropped-kms10060.jpg

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!


~~~~~ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..~~~~~~~~~

The Life and Times of Gautama Buddha in Hindi ~ हिन्दी में गौतम बुद्ध के जीवन और समय का विस्तार !!

::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
KMS-2014-51


kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms

** हिन्दी में गौतम बुद्ध के जीवन और समय का विस्तार **


BUDDHA - KMSRAJ51


gautam-buddha

** सामान्य व्यक्ति से महापुरुष तक का सफर – महात्मा बुद्ध **

buddha --

भारत की पवित्र भूमि पर ऐसे कई महापुरुषों ने जन्म लिया है, जिन्होंने अपने कृत्यों और सिद्धांतों के बल पर मानव जीवन के भीतर छिपे गूढ़ रहस्यों को उजागर किया. इन्हीं में से एक हैं महात्मा बुद्ध, जिन्होंने सामान्य मनुष्य के रूप में जन्म लेकर अध्यात्म की उस ऊंचाई को छुआ जहां तक पहुंचना किसी आम व्यक्ति के लिए मुमकिन नहीं है. ऐसे महान पुरुष के दिखलाए गए मार्ग को लोगों ने एक धर्म के रूप में ग्रहण किया जिसके परिणामस्वरूप भारत समेत सभी बड़े देशों में बौद्ध धर्म एक प्रमुख धर्म के रूप में स्वीकृत कर लिया गया.

महात्मा बुद्ध का वास्तविक नाम सिद्धार्थ था किंतु गौतमी द्वारा पाले जाने के कारण उन्हें गौतम भी कहा गया. बुद्धत्व की प्राप्ति के बाद उनके नाम के आगे बुद्ध उपसर्ग जोड़ दिया गया और धीरे-धीरे वे महात्मा बुद्ध के तौर पर प्रख्यात हो गए. गौतम बुद्ध के आदर्शों और बौद्ध धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए आज का दिन बेहद खास है. मान्यताओं के अनुसार बैसाख मास की पूर्णिमा के दिन महात्मा बुद्ध पृथ्वी पर अवतरित हुए थे और इसी दिन उन्हें बुद्धत्व के साथ-साथ महापरिनिर्वाण की भी प्राप्ति हुई थी.


buddha_nature

** महात्मा बुद्ध का जीवन **

सिद्धार्थ का जन्म शाक्य गणराज्य की राजधानी कपिलवस्तु के राजा शुद्धोधन के घर हुआ था. जन्म के सात दिन के भीतर ही सिद्धार्थ की मां का निधन हो गया था. उनका पालन पोषण शुद्धोधन की दूसरी रानी महाप्रजावती ने किया. सिद्धार्थ के जन्म के समय ही एक महान साधु नेब यह घोषणा कर दी थी कि यह बच्चा या तो एक महान राजा बनेगा या फिर एक बेहद पवित्र मनुष्य के रूप में अपनी पहचान स्थापित करेगा.

इस भविष्यवाणी को सुनकर राजा शुद्धोधन ने अपनी सामर्थ्य की हद तक सिद्धार्थ को दुःख से दूर रखने की कोशिश की. लेकिन छोटी सी आयु में ही सिद्धार्थ जीवन और मृत्यु की सच्चाई को समझ गए. उन्होंने यह जान लिया कि जिस प्रकार मनुष्य का जन्म लेना एक सच्चाई है उसी प्रकार बुढ़ापा और निधन भी जीवन की कभी ना टलने वाली हकीकत है. संसार की सबसे बड़ी सच्चाई जानने के बाद महात्मा बुद्ध सांसारिक खुशियों और विलासिता भरे जीवन से पूरी तरह विमुख हो गए. राज पाठ के साथ, पत्नी और पुत्र को छोड़कर उन्होंने एक साधु का जीवन अपना लिया !!


Cosmic_Buddha

** बुद्धत्व की प्राप्ति **

दो अन्य ब्राह्मणों के साथ सिद्धार्थ ने अपने भीतर उपज रहे प्रश्नों के हल ढूंढ़ने शुरू किए. लेकिन समुचित ध्यान लगाने और कड़े परिश्रम के बाद भी उन्हें अपने प्रश्नों के हल नहीं मिले. हर बार असफलता हाथ लगने के बाद उन्होंने अपने कुछ साथियों के साथ कठोर तप करने का निर्णय लिया. छ: वर्षों के कठोर तप के बाद भी वह अपने उद्देश्यों को पूरा नहीं कर पाए. इसके बाद उन्होंने कठोर तपस्या छोड़कर आर्य अष्टांग मार्ग, जिसे मध्यम मार्ग भी कहां जाता है, ढूंढ़ निकाला. वह एक पीपल के पेड़ के नीचे बैठ गए और निश्चय किया कि अपने प्रश्नों के उत्तर जाने बिना वह यहां से उठेंगे नहीं. लगभग 49 दिनों तक ध्यान में रहने के बाद उन्हें सर्वोच्च ज्ञान की प्राप्ति हुई और मात्र 35 वर्ष की उम्र में ही वह सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध बन गए!!

ज्ञान की प्राप्ति होने के बाद महात्मा बुद्ध दो व्यापारियों, तपुसा और भलिका, से मिले जो उनके पहले अनुयायी भी बने. वाराणसी के समीप स्थित सारनाथ में उन्होंने अपना पहला धर्मोपदेश दिया !!


** बुद्ध का महापरिनिर्वाण **

बौद्ध धर्म से जुड़े साहित्य के अनुसार 80 वर्ष की आयु में महात्मा बुद्ध ने यह घोषित कर दिया था कि बहुत ही जल्द वह महापरिनिर्वाण की अवस्था में पहुंच जाएंगे. इस कथन के बाद महात्मा बुद्ध ने एक लुहार के हाथ से आखिरी निवाला खाया. इसके बाद वह बहुत ज्यादा बीमार हो गए. लुहार को लगा कि उसके हाथ से खाने के कारण महात्मा बुद्ध की यह हालत हुई है इसीलिए महात्मा बुद्ध ने अपने एक अनुयायी को कुंडा नामक लुहार को समझाने भेजा. वैद्य ने भी यह प्रमाणित कर दिया था कि उनका निधन वृद्धावस्था के कारण हुआ है ना कि विशाक्त खाद्य के कारण!!

bbuddha

** बौद्ध धर्म की मुख्य-शिक्षा **

=> सम्यक दृष्टि – सम्यक दृष्टि का अर्थ है कि जीवन में हमेशा सुख-दुख आता रहता है हमें अपने नजरिये को सही रखना चाहिए. अगर दुख है तो उसे दूर भी किया जा सकता है!!

=> सम्यक संकल्प – इसका अर्थ है कि जीवन में जो काम करने योग्य है, जिससे दूसरों का भला होता है हमें उसे करने का संकल्प लेना चाहिए और ऐसे काम कभी नहीं करने चाहिए जो अन्य लोगों के लिए हानिकारक साबित हो!!

=> सम्यक वचन – इसका अर्थ यह है कि मनुष्य को अपनी वाणी का सदैव सदुपयोग ही करना चाहिए. असत्य, निंदा और अनावश्यक बातों से बचना चाहिए!!

=> सम्यक कर्मांत – मनुष्य को किसी भी प्राणी के प्रति मन, वचन, कर्म से हिंसक व्यवहार नहीं करना चाहिए. उसे दुराचार और भोग विलास से दूर रहना चाहिए!!

=> सम्यक आजीविका – गलत, अनैतिक या अधार्मिक तरीकों से आजीविका प्राप्त नहीं करना!!

=> सम्यक व्यायाम – बुरी और अनैतिक आदतों को छोडऩे का सच्चे मन से प्रयास करना चाहिए. मनुष्य को सदगुणों को ग्रहण करने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए!!

=> सम्यक स्मृति – इसका अर्थ यह है कि हमें कभी भी यह नहीं भूलना चाहिए कि सांसारिक जीवन क्षणिक और नाशवान है!!

=> सम्यक समाधि – ध्यान की वह अवस्था जिसमें मन की अस्थिरता, चंचलता, शांत होती है तथा विचारों का अनावश्यक भटकाव रुकता है!!

::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
kms1006


Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

 

$===== ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) ….. =====$

 

गौतम बुद्ध के जीवन और समय का विस्तार।

Kmsraj51 की कलम से…..

CYMY-KMSRAJ51-N

गौतम बुद्ध के जीवन और समय का विस्तार।

BUDDHA - KMSRAJ51


gautam-buddha

सामान्य व्यक्ति से महापुरुष तक का सफर – महात्मा बुद्ध।

buddha --

भारत की पवित्र भूमि पर ऐसे कई महापुरुषों ने जन्म लिया है, जिन्होंने अपने कृत्यों और सिद्धांतों के बल पर मानव जीवन के भीतर छिपे गूढ़ रहस्यों को उजागर किया। इन्हीं में से एक हैं महात्मा बुद्ध।

जिन्होंने सामान्य मनुष्य के रूप में जन्म लेकर अध्यात्म की उस ऊंचाई को छुआ जहां तक पहुंचना किसी आम व्यक्ति के लिए मुमकिन नहीं है। ऐसे महान पुरुष के दिखलाए गए मार्ग को लोगों ने एक धर्म के रूप में ग्रहण किया जिसके परिणामस्वरूप भारत समेत सभी बड़े देशों में बौद्ध धर्म एक प्रमुख धर्म के रूप में स्वीकृत कर लिया गया।

महात्मा बुद्ध का वास्तविक नाम सिद्धार्थ था, किंतु गौतमी द्वारा पाले जाने के कारण उन्हें गौतम भी कहा गया। बुद्धत्व की प्राप्ति के बाद उनके नाम के आगे बुद्ध उपसर्ग जोड़ दिया गया और धीरे-धीरे वे महात्मा बुद्ध के तौर पर प्रख्यात हो गए।

गौतम बुद्ध के आदर्शों और बौद्ध धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए आज का दिन बेहद खास है। मान्यताओं के अनुसार बैसाख मास की पूर्णिमा के दिन महात्मा बुद्ध पृथ्वी पर अवतरित हुए थे, और इसी दिन उन्हें बुद्धत्व के साथ-साथ महापरिनिर्वाण की भी प्राप्ति हुई थी।

buddha_nature

महात्मा बुद्ध का जीवन।

सिद्धार्थ का जन्म शाक्य गणराज्य की राजधानी कपिलवस्तु के राजा शुद्धोधन के घर हुआ था। जन्म के सात दिन के भीतर ही सिद्धार्थ की मां का निधन हो गया था। उनका पालन पोषण शुद्धोधन की दूसरी रानी महाप्रजावती ने किया।

सिद्धार्थ के जन्म के समय ही एक महान साधु नेब यह घोषणा कर दी थी कि यह बच्चा या तो एक महान राजा बनेगा या फिर एक बेहद पवित्र मनुष्य के रूप में अपनी पहचान स्थापित करेगा।

इस भविष्यवाणी को सुनकर राजा शुद्धोधन ने अपनी सामर्थ्य की हद तक सिद्धार्थ को दुःख से दूर रखने की कोशिश की। लेकिन छोटी सी आयु में ही सिद्धार्थ जीवन और मृत्यु की सच्चाई को समझ गए।

उन्होंने यह जान लिया कि जिस प्रकार मनुष्य का जन्म लेना एक सच्चाई है उसी प्रकार बुढ़ापा और निधन भी जीवन की कभी ना टलने वाली हकीकत है। संसार की सबसे बड़ी सच्चाई जानने के बाद महात्मा बुद्ध सांसारिक खुशियों और विलासिता भरे जीवन से पूरी तरह विमुख हो गए। राज पाठ के साथ, पत्नी और पुत्र को छोड़कर उन्होंने एक साधु का जीवन अपना लिया।

Cosmic_Buddha

बुद्धत्व की प्राप्ति।

दो अन्य ब्राह्मणों के साथ सिद्धार्थ ने अपने भीतर उपज रहे प्रश्नों के हल ढूंढ़ने शुरू किए। लेकिन समुचित ध्यान लगाने और कड़े परिश्रम के बाद भी उन्हें अपने प्रश्नों के हल नहीं मिले। हर बार असफलता हाथ लगने के बाद उन्होंने अपने कुछ साथियों के साथ कठोर तप करने का निर्णय लिया।

छ: वर्षों के कठोर तप के बाद भी वह अपने उद्देश्यों को पूरा नहीं कर पाए। इसके बाद उन्होंने कठोर तपस्या छोड़कर आर्य अष्टांग मार्ग, जिसे मध्यम मार्ग भी कहां जाता है, ढूंढ़ निकाला।

वह एक पीपल के पेड़ के नीचे बैठ गए और निश्चय किया कि अपने प्रश्नों के उत्तर जाने बिना वह यहां से उठेंगे नहीं। लगभग 49 दिनों तक ध्यान में रहने के बाद उन्हें सर्वोच्च ज्ञान की प्राप्ति हुई और मात्र 35 वर्ष की उम्र में ही वह सिद्धार्थ से महात्मा बुद्ध बन गए।

ज्ञान की प्राप्ति होने के बाद महात्मा बुद्ध दो व्यापारियों, तपुसा और भलिका, से मिले जो उनके पहले अनुयायी भी बने। वाराणसी के समीप स्थित सारनाथ में उन्होंने अपना पहला धर्मोपदेश दिया।

बुद्ध का महापरिनिर्वाण।

बौद्ध धर्म से जुड़े साहित्य के अनुसार 80 वर्ष की आयु में महात्मा बुद्ध ने यह घोषित कर दिया था कि बहुत ही जल्द वह महापरिनिर्वाण की अवस्था में पहुंच जाएंगे। इस कथन के बाद महात्मा बुद्ध ने एक लुहार के हाथ से आखिरी निवाला खाया।

इसके बाद वह बहुत ज्यादा बीमार हो गए। लुहार को लगा कि उसके हाथ से खाने के कारण महात्मा बुद्ध की यह हालत हुई है इसीलिए महात्मा बुद्ध ने अपने एक अनुयायी को कुंडा नामक लुहार को समझाने भेजा। वैद्य ने भी यह प्रमाणित कर दिया था कि उनका निधन वृद्धावस्था के कारण हुआ है ना कि विशाक्त खाद्य के कारण।

bbuddha

बौद्ध धर्म की मुख्य-शिक्षा।

सम्यक दृष्टि – सम्यक दृष्टि का अर्थ है कि जीवन में हमेशा सुख-दुख आता रहता है हमें अपने नजरिये को सही रखना चाहिए। अगर दुख है तो उसे दूर भी किया जा सकता है।

सम्यक संकल्प – इसका अर्थ है कि जीवन में जो काम करने योग्य है, जिससे दूसरों का भला होता है हमें उसे करने का संकल्प लेना चाहिए और ऐसे काम कभी नहीं करने चाहिए जो अन्य लोगों के लिए हानिकारक साबित हो।

सम्यक वचन – इसका अर्थ यह है कि मनुष्य को अपनी वाणी का सदैव सदुपयोग ही करना चाहिए। असत्य, निंदा और अनावश्यक बातों से बचना चाहिए।

सम्यक कर्मांत – मनुष्य को किसी भी प्राणी के प्रति मन, वचन, कर्म से हिंसक व्यवहार नहीं करना चाहिए। उसे दुराचार और भोग विलास से दूर रहना चाहिए।

सम्यक आजीविका – गलत, अनैतिक या अधार्मिक तरीकों से आजीविका प्राप्त नहीं करना।

सम्यक व्यायाम – बुरी और अनैतिक आदतों को छोडऩे का सच्चे मन से प्रयास करना चाहिए. मनुष्य को सदगुणों को ग्रहण करने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए।

सम्यक स्मृति – इसका अर्थ यह है कि हमें कभी भी यह नहीं भूलना चाहिए कि सांसारिक जीवन क्षणिक और नाशवान है।

सम्यक समाधि – ध्यान की वह अवस्था जिसमें मन की अस्थिरता, चंचलता, शांत होती है तथा विचारों का अनावश्यक भटकाव रुकता है।

Please Share your comment`s.

आपका सबका प्रिय दोस्त,

Krishna Mohan Singh(KMS)
Head Editor, Founder & CEO
of,,  http://kmsraj51.com/

———– @ Best of Luck @ ———–

Note::-

यदि आपके पास हिंदी या अंग्रेजी में कोई Article, Inspirational StoryPoetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: kmsraj51@hotmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

Also mail me ID: cymtkmsraj51@hotmail.com (Fast reply)

cymt-kmsraj51

– कुछ उपयोगी पोस्ट सफल जीवन से संबंधित –

* विचारों की शक्ति-(The Power of Thoughts)

KMSRAJ51 के महान विचार हिंदी में।

* खुश रहने के तरीके हिन्दी में।

* अपनी खुद की किस्मत बनाओ।

* सकारात्‍मक सोच है जीवन का सक्‍सेस मंत्र 

* चांदी की छड़ी।

No-1 CYMT-KMSRAJ51

“अगर अपने कार्य से आप स्वयं संतुष्ट हैं, ताे फिर अन्य लोग क्या कहते हैं उसकी परवाह ना करें।”

 ~KMSRAJ51

_______Copyright © 2015 kmsraj51.com All Rights Reserved.________

Life Management in Hindi !!


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
KMS-2014-51

kmsraj51 की कलम से …..
pen-kms


अच्छे लोग और अपने हितैषियों को हम पहचान नहीं पाते और अपने विरोधियों के प्रति पूरी तरह शत्रुता, इन्कारने का भाव रख लेते हैं। इसे चिंतन दोष कहा जाएगा। न कोई पूरी तरह अच्छाई से भरा है और नहीं बुराइयों से भरपूर होगा। मनुष्य गुण-दुर्गुण का मिलाजुला रूप है। हमें इस संतुलन के विचार को सावधानी से उपयोग में लाना चाहिए। अपने विरोधियों के विचार जानते रहना चाहिए, खासतौर पर जब वे आपके लिए व्यक्तिगत टिप्पणी कर रहे हों।

यदि इसका निष्पक्ष विश्लेषण करें तो हमें बहुत सी काम की और हितकारी बातें हाथ लग सकती हैं। इस प्रयोग को झेन फकीरों ने बखूबी किया है। जब भी कोई शिष्य उनसे दीक्षित होता, तो गुरु कहते जाओ, हमने पा लिया, हमारे हो गए, अब कुछ दिन जरूरी रूप से हमारे विरोधी के पास जाकर रहो। हमारा दूसरा पक्ष वहां नजर आएगा, लेकिन जाना निष्पक्ष होकर। इस बात की पूरी संभावना रहेगी कि विरोधी कुछ मामले में सही भी हो।

हमारा और विरोधी का पक्ष मिलकर एक तीसरा नया पक्ष बन जाए जो और भी श्रेष्ठ हो सकता है। यदि तुम्हारा इरादा नेक होगा तो हमारे और हमारे विरोधी दोनों की गलत बात को नकार कर तुम एक नई सही बात प्राप्त कर लोगे। इसलिए विरोधी विचार या व्यक्ति से शत्रुता न पाली जाए। यदि नेक इरादे से चलेंगे तब जो आज शत्रु है कल मित्र हो सकता है। यदि अपने भीतर की आध्यात्मिक योग्यता को विकसित करना है तो विरोधी के विचार को सम्मान देना सीख जाएं। स्वयं के व्यक्तित्व को अपने ही विचारों में बांधें न बल्कि विरोधी के विचारों से खोलना भी सीखें।


::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..
cropped-kms10060.jpg

Note::-
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story, Poetry या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है::- kmsraj51@yahoo.in . पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!!

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
~~~~~ ::- Krishna Mohan Singh(kmsraj51) …..~~~~~~~~~~~
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~